भारत: योगी बोले, पूर्ववर्ती सरकारों ने पुलिस आधुनिकरण की दिशा में नहीं किया कोई काम

योगी बोले, पूर्ववर्ती सरकारों ने पुलिस आधुनिकरण की दिशा में नहीं किया कोई काम
Yogi Adityanath. (File Photo: IANS)
लखनऊ, 24 अगस्त। यूपी के मुख्यमंत्री योगी ने बुधवार को लखनऊ में 260.02 करोड़ रुपये की लागत से तैयार हुई पुलिस की 144 आवासीय और अनावासीय परियोजनाओं के लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों ने इसके आधुनिकरण की दिशा में कोई कार्य नहीं किया बल्कि प्रदेश में पीएसी की 54 कंपनी समाप्त कर दी थी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस दुनिया का सबसे बड़ा पुलिस बल है, लेकिन पूर्ववर्ती सरकारों ने इसके आधुनिकरण की दिशा में कोई कार्य नहीं किया बल्कि प्रदेश में पीएसी की 54 कंपनी समाप्त कर दी थी। प्रदेश में एक भी महिला बटालियन और एसडीआरएफ का गठन नहीं किया। हमारी सरकार ने इस दिशा में कार्य करते हुए प्रदेश में एसएसएफ, तीन महिला बटालियन और एसडीआरएफ की तीन बटालियन का गठन किया।

सीएम योगी ने कहा कि 24 से 25 करोड़ की आबादी के हिसाब से प्रदेश में डेढ़ लाख पुलिस बल की कमी थी। हमारी सरकार आने बाद प्रदेश में 1 लाख 62 हजार पुलिसकर्मियों की भर्ती करने के साथ उन्हें अच्छी ट्रेनिंग दी गई। इसके अलावा हमने प्रदेश में बेहतर पुलिसिंग के लिए बड़े शहरों लखनऊ, कानपुर, नोएडा और बनारस में पुलिस कमिश्नरेट की स्थापना की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हमने सेफसिटी और सीसीटीएन का प्रदेश में प्रोजेक्ट लागू किया।

मुख्यमंत्री योगी ने यूपी पुलिस की प्रशंसा करते हुए कहा कि पुलिस बल की वजह से हमेशा सरकारें कटघरे में खड़ी रहती थीं। लेकिन देश के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी प्रदेश की अच्छी कानून व्यवस्था चुनाव में मुद्दा बनी। बेहतर कानून व्यवस्था की वजह से सरकार को जनता का समर्थन मिला। देश भर के उद्यमियों और व्यपारियों ने बेहतर कानून व्यवस्था की वजह से प्रदेश में चार लाख करोड़ रुपये का निवेश किया।

विकेटी/एएनएम

Must Read: बिलकिस बानो के दोषियों के स्वागत पर चुप्पी साध सरकार नें खींच दी लकीर : प्रियंका गांधी

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :