बिहार : बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की स्टेट कन्वीनर भाजपा नेत्री के घर बंधक थी दिव्यांग लड़की, पुलिस ने कराया मुक्त

आरोप है कि सीमा पात्रा के घर बीते आठ साल से घरेलू कामकाज के लिए रखी गयी युवती को लंबे समय से बुरी तरह प्रताड़ित किया जा रहा था। उसे घर से बाहर तक नहीं निकलने दिया जा रहा था। रांची के उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा को जब इस बाबत शिकायत मिली तो उन्होंने मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में टीम गठित कर पीड़िता को मुक्त करवाया।

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की स्टेट कन्वीनर भाजपा नेत्री के घर बंधक थी दिव्यांग लड़की, पुलिस ने कराया मुक्त
सीमा पात्रा

रांची | रांची में रिटायर्ड आईएएस की पत्नी और भाजपा नेत्री सीमा पात्रा के आवास में लंबे समय से बंधक बनाकर रखी गयी एक दिव्यांग युवती सुनीता को पुलिस ने मुक्त कराया है। सीमा पात्रा ने ट्विटर पर अपने बायो में खुद को भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यसमिति की सदस्य और बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान का स्टेट कन्वीनर बताया है।

आरोप है कि सीमा पात्रा के घर बीते आठ साल से घरेलू कामकाज के लिए रखी गयी युवती को लंबे समय से बुरी तरह प्रताड़ित किया जा रहा था। उसे घर से बाहर तक नहीं निकलने दिया जा रहा था। रांची के उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा को जब इस बाबत शिकायत मिली तो उन्होंने मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में टीम गठित कर पीड़िता को मुक्त करवाया।

Sonali Phogat Last Video: वीडियो पोस्ट करने के कुछ घंटे बाद ही दुनिया को अलविदा कह गई सोनाली फोगाट, आखिरी वीडियो आया सामने

सीमा पात्रा रांची के सबसे पॉश इलाकों में से एक अशोकनगर के रोड नंबर एक में रहती हैं। उनके घर में बंधक बनी दिव्यांग युवती ने किसी प्रकार मोबाइल पर विवेक बास्की नामक एक सरकारी कर्मचारी को मैसेज भेजकर अपने ऊपर हो रहे अत्याचार के बारे में जानकारी दी।

राहुल गांधी के इनकार के बाद कई नाम सामने: कौन बनेगा कांग्रेस का अध्यक्ष, कई नामों पर विचार

उन्हीं की सूचना पर अरगोड़ा थाने में शिकायत दर्ज की गयी है। सुनीता का रेस्क्यू कराने के बाद उसकी मेडिकल जांच कराई जा रही है। उसने पुलिस को बताया है कि उसे मानसिक और शारीरिक तौर पर प्रताड़ित किया जा रहा था। बात-बात पर उसके साथ मारपीट की जाती थी।

पीड़िता गुमला जिले की रहने वाली है। पुलिस धारा 164 के तहत उसका बयान दर्ज कराने की प्रक्रिया पूरी कराने में जुटी है। फिलहाल उसे महिला थाने में रखा गया है।

गौरतलब है कि सीमा पात्रा पूर्व आईएएस महेश्वर पात्रा की पत्नी हैं। भाजपा और महिला मोर्चा के कार्यक्रमों में पार्टी के कई बड़े नेताओं के साथ भाग लेने की तस्वीरें अपने ट्विटर हैंडल से वह हमेशा शेयर करती हैं।

लोग सबसे ज्यादा हैरत इस बात पर कर रहे हैं कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की स्टेट कन्वीनर बताने वाली और लड़कियों के हक की तरफदारी पर सोशल मीडिया पर लगातार पोस्ट करने वाली सीमा पात्रा के घर में ही उनके हाथों एक दिव्यांग लड़की बंधक बनाकर प्रताड़ित हो रही थी।

Must Read: दिल्ली एयरपोर्ट पर सीआईएसएफ ने 25 लाख के विदेशी नोटों के साथ महिला यात्री को पकड़ा

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :