विश्व: पुतिन के करीबी डुगिन की बेटी पर हमला एफएसबी एजेंटों की साजिश हो सकती है: रिपोर्ट

डेली मेल अपनी एक हालिया रिपोर्ट में बताया कि मॉस्को में इस बात की आशंका बढ़ रही है कि पुतिन के वफादार अलेक्जेंडर डुगिन की बेटी, दारिया डुगिन पर शनिवार रात को हमला पुतिन के अपने वफादार एजेंटों द्वारा उन अफवाहों के बीच किया गया था कि वे रूसी नेता को सत्ता से बाहर करना चाहते हैं।

पुतिन के करीबी डुगिन की बेटी पर हमला एफएसबी एजेंटों की साजिश हो सकती है: रिपोर्ट
डुगिन

लंदन | रूस की एफएसबी जासूसी एजेंसी के सुरक्षा एजेंटों के कार बम विस्फोट के पीछे होने की आशंका जाहिर की जा रही है, जिसमें राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के करीबी अलेक्जेंडर डुगिन की बेटी दारिया डुगिन की एक बम धमाके में मौत हो गई थी। मीडिया रिपोर्ट्स में यह दावा किया गया है।

डेली मेल अपनी एक हालिया रिपोर्ट में बताया कि मॉस्को में इस बात की आशंका बढ़ रही है कि पुतिन के वफादार अलेक्जेंडर डुगिन की बेटी, दारिया डुगिन पर शनिवार रात को हमला पुतिन के अपने वफादार एजेंटों द्वारा उन अफवाहों के बीच किया गया था कि वे रूसी नेता को सत्ता से बाहर करना चाहते हैं।

राहुल गांधी के इनकार के बाद कई नाम सामने: कौन बनेगा कांग्रेस का अध्यक्ष, कई नामों पर विचार

यूक्रेन में रूस के युद्ध पर निराशा और गुस्सा बढ़ रहा है, पुतिन के पूर्व कमांडरों में से एक ने राष्ट्रपति को एक विदूषक करार दिया, जिसे उनके अनुसार, यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की ने मात दी है।

रूस ने उग्र रूप से दावा किया है कि डुगिन को यूक्रेनी राष्ट्रवादियों से मौत की धमकी मिली थी, इससे पहले कि दारिया को उसके अल्ट्रानेशनलिस्ट (घोर राष्ट्रवादी) पिता के लिए किए गए हमले में उड़ा दिया गया।

राजनीतिक गलियारों में हलचल: 200 वाहनों के काफिले के साथ सचिन पायलट मिलने पहुंचे मृतक दलित छात्र के परिवार से, माना जा रहा शक्ति परीक्षण!

लेकिन कुछ विशेषज्ञों ने सुझाव दिया है कि यह पुतिन की एफएसबी जासूसी एजेंसी ही थी, जो हमले के पीछे थी।

इतिहासकार डॉ. यूरी फेलशिंस्की का कहना है कि हमला जिस तरह हुआ उसे देखकर लगता है कि मानो इसे रूसी किसी एजेंसी के ही सदस्य ने कराया है। उन्हें यूक्रेन पर शक नहीं है।

ब्लोइंग अप यूक्रेन के लेखक इतिहासकार यूरी फेल्शिंस्की ने कहा, प्रसिद्ध रूसी फासीवादी और पुतिन शासन के विचारक, अलेक्जेंडर डुगिन की कार को उड़ाने का आयोजन रूसी सुरक्षा सेवाओं द्वारा किया गया था।

उन्होंने आगे कहा, नवीनतम रूसी रिपोटरें के अनुसार, बम उनके संरक्षित परिसर के अंदर डुगिन की कार से जुड़ा हुआ था। यूक्रेन रूस के विपरीत सैन्य लक्ष्यों पर ध्यान केंद्रित करता है, और पुतिन के मीडिया कठपुतलियों में से एक पर हमला करने या रूसी संघ के अंदर दुर्लभ गुर्गों को ऐसे लक्ष्य को लेकर कोई स्पष्ट लाभ नहीं है जो यूक्रेन की मुक्ति के लिए अर्थहीन है।

पूर्व रूसी सांसद इल्या पोनोमारेव ने भी दावा किया कि विस्फोट एक अज्ञात रूसी समूह, नेशनल रिपब्लिकन पार्टी का काम है। समूह के अस्तित्व को सत्यापित नहीं किया जा सका।

तमाम अटकलों के बीच अब यह आशंका मजबूती से जताई जा रही है कि रूसी सिक्योरिटी सर्विस के अंदर मौजूद शरारती लोग और देश के अंदर मौजूद विद्रोही, जो पुतिन को सत्ता से हटाना चाहते हैं, इस हमले के संदिग्धों में से एक हैं।

Must Read: इराक में सद्दाम हुसैन को कुर्सी से हटाने में खास भूमिका अदा करने वाले अमेरिका के विदेश मंत्री पॉवेल का कोरोना से निधन

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :