यूएई में गर्मी का सितम: कार में बच्चों को अकेला छोडऩे पर 10 साल जेल, 2 करोड़ जुर्माना

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में इन दिनों गर्मी का सितम जारी है। हालात यह है कि पुलिस को चेतावनी तक जारी करनी पड़ गई। बताया जा रहा है कि रविवार को अल ऐन के स्वीहान में पारा 51.8 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। यह सीजन का सबसे गर्म दिन बताया जा रहा है।

कार में बच्चों को अकेला छोडऩे पर 10 साल जेल, 2 करोड़ जुर्माना

नई दिल्ली, एजेंसी। 
संयुक्त अरब अमीरात UAE) में इन दिनों गर्मी का सितम जारी है। हालात यह है कि पुलिस को चेतावनी  ( police warning) तक जारी करनी पड़ गई। बताया जा रहा है कि रविवार को अल ऐन के स्वीहान में पारा 51.8 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। यह सीजन का सबसे गर्म दिन बताया जा रहा है।  बीते शुक्रवार को भी यहां पारा 51 डिग्री था। इस पर National Meteorological Center (NMC) के प्रवक्ता ने कहा कि मई की तुलना में जून में Temperature 2-3 डिग्री बढ़ गया है। अभी यह कहना जल्दबाजी होगी कि यूएई अब तक का सबसे गर्म साल देखेगा। इससे पहले जुलाई 2002 में 52.1 डिग्री पारा पहुंच गया था। पर तीन दिन में 2 बार 51 डिग्री पहुंचना नई बात है। यूएई के खगोल विज्ञानी हसन-अल-हरिरी ने कहा कि इतनी ज्यादा गर्मी एक अजीब मौसम की घटना है, पर इसको हर 11 साल पर होने वाली सूर्य गतिविधि से जोडक़र अभी नहीं देख सकते। 2020 से सूर्य अपने अधिकतम गतिविधि वाले चक्र में प्रवेश कर चुका है। यही इस गर्मी का कारण है, बिना आंकड़ों और विश्लेषण के यह कहना मुश्किल है। 55 वर्षीय हरिरी ने बताते हैं कि बचपन यानी 70 के दशक में यहां गर्मी के मौसम में भी ठंडक रहती था, 90 के दशक के साथ गर्मी में लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है।
अबू धाबी पुलिस की चेतावनी 
पुलिस ने चेतावनी दी है कि यदि माता-पिता या अभिभावक ने किसी भी कारण से बच्चों को कार के अंदर छोड़ा तो यह दंडनीय अपराध (punishable offence ) होगा। ऐसे लोगों को 10 साल की जेल और 10 लाख दिरहम (2 करोड़ रु.) तक के जुर्माने का सामना करना पड़ सकता है। इसके साथ ही ‘summer-safe-traffic ’ अभियान के तहत, अबू धाबी पुलिस ने ड्राइवरों से गाडिय़ों के टायरों की जांच के लिए कहा है। साथ ही यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हंै कि टायर पुराने या क्षतिग्रस्त तो नहीं हैं, ताकि दुर्घटनाओं से बचा जा सके।