फायरिंग: पहले फ़िल्मी स्टाइल में पुलिस और तस्कर के बीच चलती रही रेस, फिर पुलिस ने तस्कर की गाड़ी के आगे लगाई अपनी गाड़ी, तो तस्कर ने रिवर्स  लगाकर घुमाई गाड़ी, पुलिस द्वारा फायरिंग के बावजूद भागने में कामयाब हुआ तस्कर

शुक्रवार की शाम को गुजरात के राजकोट से आई पुलिस टीम और एक शराब तस्कर के बीच पहले तो फिल्मी स्टाइल में करीब 20 किलोमीटर तक रेस लगी, फिर फिल्मी स्टाइल में ही तस्कर गुजरात पुलिस को चकमा देकर फरार होने में कामयाब हो गया।

पहले फ़िल्मी स्टाइल में पुलिस और तस्कर के बीच चलती रही रेस, फिर पुलिस ने तस्कर की गाड़ी के आगे लगाई अपनी गाड़ी, तो तस्कर ने रिवर्स  लगाकर घुमाई गाड़ी, पुलिस द्वारा फायरिंग के बावजूद भागने में कामयाब हुआ तस्कर
प्रतीकात्मक फोटो

सिरोही। शराब तस्करी के लिए कुख्यात सिरोही जिला एक बार फिर से शराब तस्करों को लेकर सुर्खियों में आ गया हैं। दरअसल कल यानी कि शुक्रवार की शाम को गुजरात के राजकोट से आई पुलिस टीम और एक शराब तस्कर के बीच पहले तो फिल्मी स्टाइल में करीब 20 किलोमीटर तक रेस लगी, फिर फिल्मी स्टाइल में ही तस्कर गुजरात पुलिस को चकमा देकर फरार होने में कामयाब हो गया। हुआ यूं कि गुजरात की राजकोट पुलिस ने कुछ दिन पूर्व शराब तस्करी के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था, जिसकी निशानदेही पर गुजरात पुलिस उस गिरफ्तार व्यक्ति को साथ लेकर सिरोही जिले के सरूपगंज पहुंची। जहां से दो तस्करों को गिरफ्तार करने में गुजरात पुलिस को सफलता मिली, पर एक तस्कर गुजरात पुलिस को चकमा देकर अपनी लग्जरी कार से फरार हो गया। गुजरात पुलिस ने भी बिना देर किए उस तस्कर का पीछा किया, जो सरूपगंज से लेकर आबूरोड़ तलहटी तक लगातार पीछा किया गया। तलहटी स्थित मॉर्डन इंसुलेटर फेक्ट्री के सामने पहुंचते ही गुजरात पुलिस ने तस्कर की कार के आगे गुजरात पुलिस की कार लगा दी। लेकिन ड्राइविंग के मास्टर तस्कर ने तुंरत ही रिवर्स गियर लगाकर गाड़ी को फर्राटे से रिवर्स कर गाड़ी घुमाकर पलक झपकते ही पुलिस की नज़रों से ओझल हो गया। हालांकि पुलिस ने भागते तस्कर पर फायरिंग भी की लेकिन पुलिस की गोली तस्कर की गाड़ी के साइड ग्लास को तोड़ती हुई आगे निकल गई और तस्कर भागने में कामयाब हो गया।

दो तस्कर चढ़े गुजरात पुलिस के हत्थे

गुजरात पुलिस ने पिछले महीने राजकोट सहित आसपास के क्षेत्र में कई बार शराब की गाड़ियां पकड़ी हैं। पकड़ी गई गाड़ियों के साथ कई मौकों पर ड्राइवर भी पकड़े गए। उन्ही में से एक व्यक्ति सुखविंदर के बताए अनुसार गुजरात पुलिस उसे साथ लेकर शराब तस्करी के मुख्य सरगना तक पहुंचने के लिए गुजरात पुलिस कल सरूपगंज पहुंची थी। सुखविंदर की निशानदेही पर ही गुजरात पुलिस ने यहां दबिश देकर विजय और रविन्द्र नामक दो तस्करों को हिरासत में लेने में कामयाबी हासिल की हैं, वही तीसरा तस्कर अपनी कार लेकर मौके से फरार हो गया। विश्वस्त सूत्रों की माने तो पिछले एक डेढ़ महीने में ही इन तस्करों ने गुजरात में करीब 40 ट्रक शराब सप्लाई किया हैं। वहीं इस अवधि में गुजरात पुलिस ने करीब 10 गाड़िया शराब की जब्त भी की हैं।

बदल गए सिरोही एसपी, फिर भी "लाइन" हैं जारी

सिरोही जिले के पूर्व एसपी हिम्मत अभिलाष टांक पर शराब तस्करों से मिली भगत के कई बार आरोप लगे, आबू-पिंडवाड़ा विधायक ने भी पूर्व एसपी हिम्मत अभिलाष टांक पर शराब तस्करों से मिलकर "लाइन" चलाने का आरोप लगाया गया था। जिसके चलते सिरोही जिले सहित पूरे प्रदेश में खाकी की खूब किरकिरी हुई और आखिर राज्य सरकार ने करीब एक महीने पहले आईपीएस हिम्मत अभिलाष का तबादला कर युवा आईपीएस धर्मेंद्रसिंह यादव को सिरोही का एसपी लगाया था। लेकिन मात्र कुछ दिनों के लिए शराब तस्करी पर रोक जरूर लगी, पर अब पुनः शराब तस्कर इस जिले में सक्रिय होकर अपनी "लाइन" आसानी से चलाते नज़र आ रहे हैं। जो कभी भी पुलिसिया साख पर फिर से बट्टा लगा सकता हैं।
 

Must Read: प्रेमी युगल ने लगाई फांसी, नागौर जिले की जायल तहसील का है मामला

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :