Afghanistan रिपोर्टर की हत्या की खबर: अफगानिस्तान के रिपोर्टर की हत्या की खबर सोशल मीडिया पर वायरल, पश्तो भाषा से अंग्रेजी अनुवाद से हुआ अर्थ का अनर्थ

अफगानिस्तान में आज एक रिपोर्टर की हत्या की खबर दिनभर चर्चा का विषय बना रहा। सोशल मीडिया पर रिपोर्टर की हत्या के बाद श्रद्धांजलि तक देने शुरू हो गया,हालांकि इस घटना क्रम के बाद रिपोर्टर ने स्वयं सोशल मीडिया पर इस का खंडन किया और स्वयं के जिंदा होने का प्रमाण दिया।

अफगानिस्तान के रिपोर्टर की हत्या की खबर सोशल मीडिया पर वायरल, पश्तो भाषा से अंग्रेजी अनुवाद से हुआ अर्थ का अनर्थ

नई ​दिल्ली। 
अफगानिस्तान (Afghanistan)में आज एक रिपोर्टर की हत्या (Reporter Murder)की खबर दिनभर चर्चा का विषय बना रहा। सोशल मीडिया पर रिपोर्टर की हत्या के बाद श्रद्धांजलि तक देने शुरू हो गया,हालांकि इस घटना क्रम के बाद रिपोर्टर ने स्वयं सोशल मीडिया पर इस का खंडन किया और स्वयं के जिंदा होने का प्रमाण दिया। जानकारी के मुताबिक अफगान(Afghan) के सबसे बड़े मीडिया हाउस टोलो न्यूज(Tolo news) के एक रिपोर्टर जियार खान की मौत की खबर आज सुबह वायरल हुई। कई मीडिया हाउस ने भी इस खबर को कवर किया और लोगों ने जियार की मौत पर दुख जताना तक शुरू कर दिया। हालांकि इसके करीब आधा घंटे बाद जियार ने ट्वीट कर बताया कि वह जिंदा है और केवल घायल हुआ था। उनकी मौत नहीं हुई है।


तालिबानियों ने मारपीट की, कैमरा तक तोड़ दिया
जानकारी के मुताबिक टोलो न्यूज के पत्रकार जियार खान(Journalist Jiar Khan) अफगानिस्तान में तालिबानियों द्वारा किए जा रहे अत्याचारों पर न्यूज कवरेज कर रहे थे। इस दौरान बुधवारा को काबुल में गरीबी और लोगों की हालत पर कवरेज कर रहे थे। अचानक तालिबान(Taliban) के कुछ आतंकी एक वाहन में आए और उनके साथ मारपीट करना शुरू कर दिया।  हथियारबंद तालिबानियों ने उनका कैमरा तोड़ दिया। इसके बाद फोन छीन लिया और बुरी तरह पीटा। इस घटना में वे बुरी तरह घायल हो गए।
आखिर क्यों वायरल हुई हत्या की खबर
न्यूज एजेंसियों के मुताबिक आज सुबह 10.45 बजे पश्तो भाषा में एक न्यूज पब्लिश की। उन्होंने इसे सोशल मीडिया पर शेयर किया। पश्तो भाषा(pashto language) में टोलो न्यूज के रिपोर्टर के साथ तालिबान ने काबुल में मारपीट की लिखा होना बताया गया। लेकिन गूगल ट्रांसलेटर के जरिए इसका अंग्रेजी में अनुवार किया गया और इसका मतलब अलग हो गया। अंग्रेजी ट्रांसलेशन के बाद इसका अर्थ का अनर्थ हो गया। इसमें बताया कि रिपोर्टर की काबुल में हत्या कर दी है। इस पोस्ट के बाद ही सोशल मीडिया पर जियार की हत्या की खबर तेजी से वायरल होने लगी।

Must Read: भारत ने श्यामा प्रसाद मुखर्जी बंदरगाह पर एलपीजी का जहाज से जहाज प्रचालन किया शुरू

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :