जालोर में फूटा आक्रोश: 12 सूत्री लंबित मांगों को लेकर शिक्षकों का धरना प्रदर्शन, कहा- नहीं दिया ध्यान तो आंदोलनों की आएगी आंधी

राजस्थान के जालोर जिले में शिक्षकों एवं कार्मिकों की 12 सूत्री लंबित मांगों को लेकर राजस्थान समग्र शिक्षक संघ के बैनर तले मल्केश्वर मठ में सभा का आयोजन किया गया।

12 सूत्री लंबित मांगों को लेकर शिक्षकों का धरना प्रदर्शन,  कहा- नहीं दिया ध्यान तो आंदोलनों की आएगी आंधी

जालोर |  राजस्थान के जालोर जिले में शिक्षकों एवं कार्मिकों की 12 सूत्री लंबित मांगों को लेकर राजस्थान समग्र शिक्षक संघ के बैनर तले मल्केश्वर मठ में सभा का आयोजन किया गया। इस सभा में शिक्षकों की मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ आक्रोश फूट पड़ा। 

नहीं दिया ध्यान तो आंदोलनों की आएगी आंधी
बैठक की अध्यक्षता करते हुए समग्र शिक्षक संघ के प्रदेशाध्यक्ष डॉ उदय सिंह डिगार ने कहा कि सरकार ने समय रहते शिक्षकों की मांगों पर ध्यान नहीं दिया गया तो प्रदेश भर में आंदोलनों की आंधी आ जाएगी। जिसका खामियाजा राज्य सरकार को भुगतना पड़ेगा। 

ये भी पढ़ें:- हत्या या आत्महत्या ?: साधु-संतों को लेकर भरतपुर फिर चर्चा में! अब पेड़ से झुलता मिला महंत का शव, ग्रामीणों में आक्रोश

इन मांगों को लेकर दिया ज्ञापन
उन्होंने बताया कि शिक्षकों के लंबे समय से प्रथम नियुक्ति तिथि से 9 वर्ष चयनित वेतनमान देने, तृतीय श्रेणी शिक्षकों के तबादलों पर से प्रतिबंध हटाने, बकाया वेतनवृद्धि  दिलवाने, प्रबोधकों की पदोन्नति का मामला सुलझाने , व्याख्याताओं को 9 वर्षीय चयनित वेतनमान देने कार्मिकों को 9 वर्ष के स्थान पर 8 वर्षीय चयनित वेतनमान देकर सेवा काल में चार बार वेतनवृद्धि दिलवाने समेत 12 सूत्री मांगे शामिल है। उन्होंने इस संबंध में जिला कलेक्टर, अतिरिक्त जिला कलक्टर आरएस अग्रवाल को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर समाधान की मांग की। इसी प्रकार निदेशक के नाम का मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी टीआर मीणा को भी ज्ञापन सौंपकर तत्काल समाधान नहीं होने पर निदेशालय के घेराव की चेतावनी दी। शिक्षक संघ ने जिला प्रमुख को भी ज्ञापन दिया। 

ये भी पढ़ें:- राजस्थान: प्रेमिका से मिलने भाई के नाते ससुराल आता प्रेमी और फिर... दुल्हन हम ले जाएंगे

इस अवसर पर ये भी रहे मौजूद
इस अवसर पर  जालोर जिला अध्यक्ष जनक सिंह सियाणा , सभा अध्यक्ष रूप सिंह नारणावास , पन्ना लाल सोलंकी , डूंगा राम सुथार , हीर सिंह , किशोर सिंह,रतन सिंह,भंवर सिंह,नरेश ओझा,गोपाल सिंह,जगाराम, बगसिंह, हरिसिंह,भवर सिंह,जबर सिंह,नरेन्द्रसिंह , शेर सिंह देवल , शेर सिंह परमार , नारायण लाल भट्ट ,पीराराम,रमेश पुरोहित, गजेसिंह,प्रकाश भट्ट , मदन खान, मोहन सिंह राजपुरोहित , अमर सिंह , शैतान सिंह , भवर सिंह  , केशर सिंह ,विक्रमसिंह, प्रेमाराम, कालूराम, कुंपाराम, पुरुषोतम दास, हीरसिंह,बाबूलाल,महेंद्र सिंह,दीपाराम,इलताफ हुसैन,अमरसिंह, इंदरसिंह भागली सिन्धलान , शेरसिंह, इंदरसिंह देशु खुशाल सिंह , गजे सिंह , हरि सिंह सहित बड़ी संख्या में शिक्षक उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें:- मानसिक विमंदित बालिका पुनर्वास गृह: संचालिका समेत 2 गिरफ्तार, पुलिस ने पीड़िता के कोर्ट में दर्ज करवाए बयान

Must Read: आठ बजे बाद शराब देने के लिए ठेकेदार पर तानी पिस्तौल, कहा जेल में रहकर आया हूं, पकड़कर पुलिस को सौंपा

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :