एक ही परिवार के तीन मासूमों की हुई मौत: सरूपगंज के फूलाबाईखेड़ा गांव में रहस्यमयी बीमारी ने निगली कई जिंदगियां....

सरूपगंज कस्बे के निकटवर्ती फूलाबाईखेड़ा गांव में अज्ञात बीमारी ने कोहराम मचाया हुआ हैं।पिछले तीन दिनों में एक ही परिवार के तीन मासूमों की मौत हो गई हैं। बुधवार को भी परिवार के भाई व बहन ने गुजरात में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। जिला कलेक्टर डॉ. भंवरलाल के निर्देश पर गठित मेडिकल टीम ने गांव पहुंचकर दोनों बच्चों का मौके प

सरूपगंज के फूलाबाईखेड़ा गांव में रहस्यमयी बीमारी ने निगली कई जिंदगियां....

गौरव अग्रवाल, फर्स्ट भारत-सरूपगंज। सरूपगंज कस्बे के निकटवर्ती फूलाबाईखेड़ा गांव में अज्ञात बीमारी ने कोहराम मचाया हुआ हैं।पिछले तीन दिनों में एक ही परिवार के तीन मासूमों की मौत हो गई हैं। बुधवार को भी परिवार के भाई व बहन ने गुजरात में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। जिला कलेक्टर डॉ. भंवरलाल के निर्देश पर गठित मेडिकल टीम ने गांव पहुंचकर दोनों बच्चों का मौके पर ही पोस्टमार्टम किया।

जानकारी के अनुसार सरूपगंज थाना क्षेत्र के फूलाबाईखेड़ा गांव में अज्ञात बीमारी के चलते राजेश(12) पुत्र समाराम जणवा,संतोष(15)पुत्री समाराम जणवा व इसी परिवार के विपुल(10)पुत्र शंकरलाल जणवा की अप्रैल को मौत हुई थी। अज्ञात बीमारी के चलते फूलाबाईखेड़ा गांव में हड़कंप मचा हुआ हैं।एक ही परिवार के तीन बच्चों की मौत की सूचना के बाद जिला कलेक्टर डॉ. भंवरलाल के निर्देश पर पिंडवाड़ा एसडीएम हसमुख कुमार, नायब तहसीलदार दलपतसिंह, नारायणराम देवासी, बीडीओ हनुवीर बिश्नोई मौके पर पहुंचे और परिजनों से जानकारी ली।

चार अन्य बच्चों की भी हुई मौत-

पंचदेवल सरपंच विपेश कुमार गरासिया ने बताया कि इसी अज्ञात बीमारी से 9 अप्रैल को प्रकाश पुत्र आसाराम गरासिया, 10 अप्रैल को गणेश पुत्र भुराजी भील, कुसिया पुत्र रुपा भील, लाखा पुत्र रुपा भील की भी मौत हुई है वहीं एक मासूम रुपाराम का आबूरोड़ के लाइफ केयर अस्पताल में इलाज चल रहा हैं।

मेडिकल बोर्ड से दोनों बच्चों का मौके पर ही किया पोस्टमार्टम-

जिला कलेक्टर डॉ. भंवरलाल के निर्देश के बाद मेडिकल टीम फूलाबाईखेड़ा गांव पहुंची। चिकित्सा विभाग के चिकित्सक डॉ. राजीव, पिंडवाड़ा सीएचसी के डॉ. कश्यप जानी, भारजा के डॉ. अभिमन्यु मौके पर पहुंचे और दोनों बच्चों का मौके पर ही पोस्टमार्टम किया।

खाने-पीने समेत ब्लड सेम्पल्स की जांच में जुटा चिकित्सा विभाग-

ब्लॉक सीएमएचओ डॉ. एसपी शर्मा ने बताया कि एक ही परिवार के तीन मासूमों की मौत के बाद उनके परिवार के प्रत्येक सदस्य की जांच की जा रही हैं।खाने-पीने के सामान के साथ ही उनके ब्लड सेम्पल्स लिए गये है।ब्लड सेम्पल्स व अन्य की रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति साफ हो पाएगी।

जिला कलेक्टर की संजीदगी-

अज्ञात बीमारी से एक ही परिवार में तीन मौत की सूचना मिलते ही जिला कलेक्टर डॉ. भंवरलाल एक्टिव मोड में नजर आए। उन्होंने तुरंत चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को मौके पर जाने के निर्देश दिए साथ ही जिला कलेक्टर खुद भी मौके पर पहुंचे और परिजनों से जानकारी ली।जिला कलेक्टर ने बताया कि लोगों की जान बचाना पहली प्राथमिकता हैं। उन्होंने कहा कि पूरे मामले में जांच की जा रही है आखिर बच्चों की मौत कैसे हुई। उन्होंने कहा चिकित्सा विभाग की कई टीमें जांच कर रही हैं।कल से पूरे गांव में डोर टू डोर सर्वे किया जाएगा।

बच्चों की मां की भी बिगड़ी तबियत
अज्ञात बीमारी से भाई-बहन की मौत के बाद बुधवार देर शाम को बच्चों की मां शांति देवी की भी तबियत बिगड़ गई जिसे एम्बुलेंस की सहायता से सरुपगंज सीएचसी लाया गया जहां चिकित्सक रामलाल व अन्य चिकित्सक उपचार कर रहे हैं।

परिवार में छाया मातम
फूलाबाईखेड़ा गांव में एक ही परिवार में तीन मासूमो की मौत होने से परिवार में मातम का माहौल हैं।बच्चों की मौत के बाद परिवार के लोग लगातार विलाप करते नजर आए।अधिकारियों ने परिवार के लोगों को ढांढस बंधाते रहे।

ये भी रहे मौजूद
फूलाबाईखेड़ा में एक ही परिवार के तीन मासूमों की मौत की सूचना के बाद पिंडवाड़ा-आबू विधायक समाराम गरासिया,पंचायत समिति सदस्य बलवंत चौधरी,सरपंच विपेश गरासिया,नारायण सीरवी,कांति सीरवी,भुवनेश पुरोहित, शंकर प्रजापत समेत काफी लोग मौजूद रहे।

Must Read: Sanitary Napkins के अभाव में बांझपन तक का सामना कर रही है महिलाएं, सरकार की 'उड़ान योजना' से महिलाओं को मिलेगी सहायता:सीएम

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :