ब्रिटेन के प्रिंस का निधन: ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ के पति प्रिंस फिलिप का 99 साल की उम्र में हुआ निधन

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ-II के पति प्रिंस फिलिप का शुक्रवार को निधन हो गया। फिलिप 99 साल के थे और हाल ही में उनकी हार्ट सर्जरी हुई थी। इन्फेक्शन के बाद उन्हें किंग एडवर्ड हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था। यहां 28 दिन रहने के बाद 16 मार्च 2021 को उन्हें डिस्चार्ज किया गया था।

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ के पति प्रिंस फिलिप का 99 साल की उम्र में हुआ निधन

नई दिल्ली। 
ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ-II के पति प्रिंस फिलिप का शुक्रवार को निधन हो गया। फिलिप 99 साल के थे और हाल ही में उनकी हार्ट सर्जरी हुई थी। इन्फेक्शन के बाद उन्हें किंग एडवर्ड हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था। यहां 28 दिन रहने के बाद 16 मार्च 2021 को उन्हें डिस्चार्ज किया गया था। प्रिंस फिलिप ने जनवरी में क्वीन के साथ कोरोना वैक्सीन लगवाई थी। 10 जून 1921 को जन्मे प्रिंस फिलिप दो महीने बाद अपना 100वां जन्मदिन मनाने वाले थे।
प्रिंस फिलिप के निधन के बाद राज परिवार की परंपरा के मुताबिक यह सूचना बकिंघम पैलेस की रेलिंग पर लगाई गई। राज परिवार की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि हिज रॉयल हाइनेस द प्रिंस फिलिप, ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग नहीं रहे। रॉयल हाइनेस का आज सुबह विंडसर कैसल में निधन हो गया। प्रिंस फिलिप ने 2017 में अपनी जिम्मेदारियों से रिटायरमेंट ले लिया था। इसके बाद से वह कभी-कभार ही नजर आते थे। इंग्लैंड में कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन के दौरान वह लंदन में विंडसर कैसल में महारानी के साथ रह रहे थे। प्रिंस फिलिप का जन्म 10 जून 1921 को ग्रीस में हुआ था। वह ब्रिटिश इतिहास में सबसे ज्यादा समय तक राजा रहे। साथ ही ब्रिटिश राज परिवार के सबसे बुजुर्ग पुरुष सदस्य भी थे। ग्लुक्सबर्ग राजघराने के सदस्य फिलिप का संबंध यूनानी और डेनिश राज परिवारों से था। बचपन में ही उनके परिवार को देश से निष्कासित कर दिया गया था। क्वीन एलिजाबेथ से उनकी पहली मुलाकात 1934 में हुई थी। तब एलिजाबेथ की उम्र 13 साल थी। वे फिलिप की दूर की रिश्तेदार थीं। फिलिप ने दूसरे विश्वयुद्ध में भी हिस्सा लिया था। युद्ध के बाद जॉर्ज-षष्टम ने फिलिप के साथ अपनी बेटी एलिजाबेथ से शादी की इजाजत दे दी। सगाई के ऐलान से पहले ही उन्हें अपनी यूनानी और डेनिश शाही पदवियां छोड़कर ब्रिटिश नागरिक बनना पड़ा। सगाई के 5 महीने बाद उन्होंने 20 नवंबर 1947 को एलिजाबेथ से शादी कर ली। इसके बाद उन्हें ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग की उपाधि दी गई। राजगद्दी संभालने के बाद क्वीन एलिजाबेथ-II पहली बार 1961 में भारत के दौरे पर आई थीं। उनके साथ प्रिंस फिलिप भी आए थे। यहां जयपुर के राजपरिवार ने उनकी मेजबानी की थी।


प्रधानमंत्री मोदी ने दी श्रद्धांजलि


प्रिंस फिलिप के निधन पर कई देशों के प्रधानमंत्रियों ने शाही परिवार के लिए संवेदनाएं जताई हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सोशल मीडिया पर उन्हें श्रद्धांजलि दी है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि देश उनके असाधारण जीवन और काम के लिए धन्यवाद देता है। 

Must Read: Union Home Minister Amit Shah ने जैसलमेर में तनोट माता के किए दर्शन, जवानों को दी हेल्थ कार्ड की सौगात

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :