Rajasthan @ कृषि और उद्यानिकी विभाग: प्रदेश में केर-सांगरी, मशरूम और शहद को प्रोत्साहित करने के लिए अब किए जाएंगे विशेष प्रयास

उद्यानिकी विभाग राज्य में केर-सांगरी, मशरूम और शहद के उत्पादन एवं विपणन के लिए किसानों को प्रोत्साहित करने के लिए विशेष प्रयास करेगा। कृृषि एवं उद्यानिकी विभाग के प्रमुख शासन सचिव दिनेश कुमार ने गुरुवार को यहां पंत कृृषि भवन में उद्यानिकी विभाग की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को इस संबंध में कार्य करने के निर्देश दिए।

प्रदेश में केर-सांगरी, मशरूम और शहद को प्रोत्साहित करने के लिए अब किए जाएंगे विशेष प्रयास

जयपुर।
उद्यानिकी विभाग राज्य में केर-सांगरी, मशरूम और शहद के उत्पादन एवं विपणन के लिए किसानों को प्रोत्साहित करने के लिए विशेष प्रयास करेगा। कृृषि एवं उद्यानिकी विभाग के प्रमुख शासन सचिव दिनेश कुमार ने गुरुवार को यहां पंत कृृषि भवन में उद्यानिकी विभाग की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को इस संबंध में कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि हमारा ज्यादा फोकस कुछ विशेष गतिविधियों पर ही है, जबकि अन्य कई क्षमतावान उत्पादों को बढ़ावा देने की भी काफी संभावना है। उन्होंने राष्ट्रीय कृृषि विकास योजना (आरकेवीवाई) के तहत केर-सांगरी को संगठित रूप से प्रोत्साहित करने के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए, ताकि इनके रिसर्च, प्लांटिंग एवं प्रोसेसिंग पर कार्य किया जा सके।

उन्होंने मशरूम की खेती को बढ़ावा देने के लिए डाटा बैंक तैयार कर सेमिनार आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सेमिनार के माध्यम से वर्तमान में मशरूम पैदा कर रहे काश्तकारों एवं इच्छुक नए किसानों को एक मंच मिल सकेगा और इसकी खेती की बारीकियों एवं विपणन से होने वाली अच्छी आमदनी से रूबरू हो सकेंगे। उन्होंने शहद उत्पादन के लिए भी किसानों को प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए। दिनेश कुमार ने राज्य में संरक्षित खेती के लिए सरकारी अनुदान से बने ग्रीन हाउस का सर्वे कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अगर कहीं ग्रीन हाउस में उत्पादन बंद कर दिया है और उपयोग में नहीं ले रहे हैं तो उन्हें चिह्वित कर बंद होने के कारणों का पता लगाकर पुनः उपयोगी बनाने के लिए कार्यवाही करें। उद्यानिकी विभाग के आयुक्त अभिमन्यु कुमार ने विभागीय गतिविधियों की प्रगति से अवगत कराया। बैठक में संयुक्त शासन सचिव एसपी सिंह, उप शासन सचिव प्रह्लाद मीणा, कृृषि विश्वविद्यालयों के नोडल अधिकारी डॉ. ओपी गढ़वाल सहित विभागीय उच्चाधिकारी उपस्थित थे।

Must Read: राजस्थान लोक सेवा आयोग ने युवाओं से की अपील, सावधानी पूर्वक करें वन टाइम रजिस्ट्रेशन, रजिस्ट्रेशन के बाद नहीं होगा परिवर्तन

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :