Rajasthan सफाई कर्मचारी आयोग की बैठक: राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग ने राज्य के विद्यालयों में सफाई कमचारियों की नियुक्ति करने का दिया सुझाव

प्रदेश के सभी सरकारी विद्यालयों में सफाई व्यवस्था के लिए नियमित सफाई कर्मचारियों की आवश्यकता है। अतः स्कूल शिक्षा विभाग इस संबंध में प्रस्ताव तैयार करें। स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रत्येक कर्मचारी का हर तीन माह में स्वास्थ्य परीक्षण किया जाए, ताकि वे गंभीर बीमारियों से ग्रस्त ना हो।

राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग ने राज्य के विद्यालयों में सफाई कमचारियों की नियुक्ति करने का दिया सुझाव

जयपुर।
राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग की सदस्य अंजना पंवार ने विभिन्न विभागों को निर्देश दिए है कि वे सफाई कर्मियों से संबंधित सभी समस्याओं का निस्तारण अविलम्ब सुनिश्चित करें। 
इसके साथ ही उन्होंने सुझाव दिया कि प्रदेश के सभी सरकारी विद्यालयों में सफाई व्यवस्था के लिए नियमित सफाई कर्मचारियों की आवश्यकता है। अतः स्कूल शिक्षा विभाग इस संबंध में प्रस्ताव तैयार करें।
उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रत्येक कर्मचारी का हर तीन माह में स्वास्थ्य परीक्षण किया जाए, ताकि वे गंभीर बीमारियों से ग्रस्त ना हो। 
उन्होंने स्वायत्त शासन विभाग व सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के अधिकारियों को सीवर साफ करने में मारे गए कर्मचारियों के आश्रितों को शीध्र क्षतिपूर्ति जारी करने के निर्देश दिए।


पंवार गुरूवार को स्थानीय निकाय विभाग के मीटिंग हॉल मे विभिन्न विभागों के अधिकारियों व सफाई कर्मचारियों से जुड़े संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ सफाई कर्मचारियों से संबंधित मुद्दों पर आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रही थी।
पंवार ने अधिकारियों से कहा कि वे सफाई कर्मचारियों से संबंधित लंबित प्रकरणों में संवेदनशीलता से कार्य करें और उनका निस्तारण प्राथमिकता से करें। सभी विभागों का लक्ष्य स्वच्छकारों की उचित मांगों व मुद्दों का समाधान होना चाहिए ताकि समाज के इस वंचित वर्ग को संबल मिल सके।
उन्होंने रोजगार पर जोर देते हुए कहा कि पंचायत से लेकर निकाय स्तर तक सफाई कर्मचारियों की भर्ती समय पर हो। पंवार ने सुझाव दिया कि संविदा पर सफाई कर्मचारियों की नियुक्ति ना हो। 
इस विषय पर स्थानीय निकाय विभाग के निदेशक हृदयेश कुमार शर्मा ने पंवार को अवगत करवाया कि विभाग द्वारा 2018-19 में 21136 सफाई कर्मचारियों की भर्ती प्रक्रिया प्रारंभ की गई थी। जिसमें से 20598 को नियुक्ति दी जा चुकी है। शेष 538 को भी शीघ्र नियुक्ति दे दी जाएगी।

Must Read: कोरोना गाइड लाइन को लेकर सरकार सजग,लेकिन सरकार के मंत्री और विधायक लापरवाह, सिरोही जिला प्रभारी मंत्री भाया सहित जनप्रतिनिधियों ने लोगों को ​दी नियमों की सीख, स्वयं नियमों का करते रहे उल्लंघन

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :