गुस्साए ग्रामीणों ने जाम लगाया: राजस्थान में फिर मॉब लिंचिंग! अलवर में सब्जी का ठेला लगाने वाले को बेरहमी से मार डाला

अलवर में गोविंदगढ़ पुलिस थाना क्षेत्र के रामबास गांव में शौचकर घर आ रहे एक व्यक्ति चिंरजीलाल को चोर समझकर लोगों ने बेरहमी से मारपीट कर डाली जिससे उसकी मौत हो गई। मृतक चिरंजीलाल सब्जी का ठेला लगाकर अपने परिवार का भरण-पोषण करता था।

राजस्थान में फिर मॉब लिंचिंग! अलवर में सब्जी का ठेला लगाने वाले को बेरहमी से मार डाला
File Photo

अलवर | Mob Lynching in Alwar: राजस्थान में मॉब लिंचिंग की घटनाएं रूकने का नाम नहीं ले रही हैं। अब प्रदेश के अलवर जिले में मॉब लिंचिंग का डराने वाला मामला सामने आया है। इस घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने आज मंगलवार सुबह मुख्य रास्तों पर जाम लगा दिया और यातायात प्रभावित कर दिया।

सब्जी का ठेला लगाता था मृतक
जानकारी के अनुसार, अलवर में गोविंदगढ़ पुलिस थाना क्षेत्र के रामबास गांव में शौचकर घर आ रहे एक व्यक्ति चिंरजीलाल को चोर समझकर लोगों ने बेरहमी से मारपीट कर डाली जिससे उसकी मौत हो गई। मृतक चिरंजीलाल सब्जी का ठेला लगाकर अपने परिवार का भरण-पोषण करता था। इस घटना के विरोध में दुकानदारों ने गोविंदगढ़ और रामबास में दुकानें बंद रख कर विरोध प्रदर्शन किया और मृतक चिंरजीलाल के बेटे को सरकारी नौकरी एवं 50 लाख रुपए की मांग की।

ये भी पढ़ें:- अणगौर बांध का निरीक्षण: सिरोहीवासियों को उपलब्ध होगा 48 घंटे में पेयजल, विधायक संयम लोढा ने की कलक्टर से बात

ग्रामीणों बंद किए मार्ग, सात घंटे लोग परेशान
ग्रामीणों द्वारा मार्गों को बंद करने से यातायात प्रभावित हो गया। जिसके बाद प्रशासन ने ग्रामीणों को समझा बुझाकर 5 लाख मुआवजा और मृतक के पुत्र को सरकारी नौकरी का प्रस्ताव भेजने का आश्वासन देकर मार्गों को फिर से खुलवाया। मार्गों के बंद रहने से सात घंटे तक लोग परेशान होते रहे। 

ये भी पढ़ें:- पांच महीने बाद पुलिस पहुंची मंजिल तक: मुंबई पुलिस को गुजरात में बड़ी कामयाबी, 513 किलो ड्रग्स बरामद, कीमत 1 हजार करोड़ से ज्यादा

बेटे ने दर्ज कराया पुलिस में मामला
मॉब लिंचिंग का शिकार हुए मृतक चिरंजीलाल के बेटे योगेश ने गोविंदगढ़ थाने में उलाहेड़ी थाना सदर निवासी विक्रम खान समेत डेढ दर्जन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है। बेटे का आरोप है कि, उसके पिता को इन लोगों ने लाठी, फरसे, सरिए आदि से बेरहमी से मारा है जिससे उनकी मौत हुई है। 

ये है पूरा मामला
14 अगस्त यानि रविवार को रामबास निवासी चिरंजी खेत में शौच के लिए गया था। इसी दौरान कुछ लोग एक ट्रैक्टर चोर का पीछा कर रहे थे। ऐसे में चोर लोगों से बचने के लिए ट्रैक्टर को बिजली घर के पास एक खेत में छोड़कर भाग निकला। चोर का पीछा करते हुए ट्रैक्टर मालिक और लोग वहां पहुंच गए तो उन्होंने खेत में चिरंजीलाल को चोर समझकर बेरहमी से पीट दिया, जिसके बाद उसे घायलावस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालत गंभीर होने पर उसे जयपुर रेफर कर दिया गया। जहां सोमवार शाम उसकी मौत हो गई। 

Must Read: राजस्थान में गृह विभाग के आदेशों के बावजूद दर्ज नहीं हो रहे मुकदमें, सिरोही नगर परिषद सभापति के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए विभाग ने 11 माह में 2 बार जारी किए आदेश

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :