जालोर रामसीन में स्वास्थ्य कार्यक्रम: जालोर के रामसीन और मांड़ोली सेक्टर में स्वास्थ्य कार्यक्रम किशोर—किशोरी प्रशिक्षण शिविर में दी शारीरिक व मानसिक परिवर्तन की जानकारी

बीसीएमओ डॉ. बाबूलाल पुरोहित के निर्देशन में आयोजित रामसीन एवं मांड़ोली सेक्टर का प्रशिक्षण में बच्चों में होने वाले परिवर्तन के संबंध में शिक्षित किया गया।

जालोर के रामसीन और मांड़ोली सेक्टर में स्वास्थ्य कार्यक्रम किशोर—किशोरी प्रशिक्षण शिविर में दी शारीरिक व मानसिक परिवर्तन की जानकारी

रामसीन, जालोर।
स्वास्थ्य विभाग के अंतर्गत किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत किशोर किशोरियों का छह दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित किया गया।
बीसीएमओ डॉ. बाबूलाल पुरोहित के निर्देशन में आयोजित रामसीन एवं मांड़ोली सेक्टर का प्रशिक्षण में बच्चों में होने वाले परिवर्तन के संबंध में शिक्षित किया गया। 
उन्होंने बताया कि किशोर अवस्था में बालक बालिकाओं में उम्र के साथ शारीरिक और मानसिक बदलाव को समझने के लिए  स्वास्थ्य शिक्षा आवश्यक हो जाती है।
उक्त प्रशिक्षण के दौरान उम्र के साथ शरीर में होने वाले शारीरिक बदलाव के साथ धूम्रपान,घरेलू हिंसा, मानसिक उत्पीड़न सहित योन संबंधी समस्याओं के समाधान एवं मार्गदर्शन हेतु प्रशिक्षण दिया जाता है।
प्रशिक्षण के अंतिम दिवस रामसीन चिकित्सा अधिकारी डॉ. गजेंद्र चौधरी, डॉ राजेन्द्र गौड़, मांडोली चिकित्सा अधिकारी डॉ. दिनेश कुमार परमार, डॉ. विजेंद्र कुमार एवं खंड फैसिलिटेटर दिनेश वत्सल की उपस्थिति में प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाण पत्र प्रदान किए गए।
प्रशिक्षण के दौरान पीएचएस विष्णु गुप्ता, मोनिका सिंह,सुनीता यादव, सविता रणवा के द्वारा प्रशिक्षण दिया गया। इस दौरान विभिन्न गांवों से आए किशोर किशोरियों सहित क्षेत्र की आशा सहयोगिनी उपस्थित थी।

Must Read: भारत बायोटेक की कोवै​क्सिन को जल्द मिल सकती है डब्ल्यूएचओ से मंजूरी,78 फीसदी कारगर है टीका

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :