नवरात्रि विशेष: शारदीय नवरात्रि में घट स्थापना से अष्टमी तक इस प्रकार रहेंगे मुहूर्त, जाने इस नवरात्रि पूजा का सही समय

नवरात्रि विशेष : शारदीय नवरात्रि महोत्सव की शुरुआत 15 अक्टूबर यानी कल रविवार से होगी। इस शारदीय नवरात्रि में घट स्थापना के अलावा, होम अष्टमी और नवमी तिथि का भी महत्व है। जानिए क्या रहेगा घट स्थापना से लेकर दूसरे दिनों में पूजा का दिन और समय।

शारदीय नवरात्रि में घट स्थापना से अष्टमी तक इस प्रकार रहेंगे मुहूर्त, जाने इस नवरात्रि पूजा का सही समय
शारदीय नवरात्रि में घट स्थापना से अष्टमी तक इस प्रकार रहेंगे मुहूर्त, जाने इस नवरात्रि पूजा का सही समय

सिरोही। शारदीय नवरात्रि महोत्सव की शुरुआत 15 अक्टूबर यानी कल रविवार से होगी। इस शारदीय नवरात्रि में घट स्थापना के अलावा, होम अष्टमी और नवमी तिथि का भी महत्व है। जानिए क्या रहेगा घट स्थापना से लेकर दूसरे दिनों में पूजा का दिन और समय।

शारदीय नवरात्रि की शुरुआत 15 अक्टूबर रविवार से होगी जो सोमवार 23 अक्टूबर 2023 तक चलेगी। मंगलवार 24 अक्टूबर को मां दुर्गा की विदाई दी जाएगी और विजया दशमी अर्थात दशहरा का पर्व मनाया जाएगा।

हिंदू धर्म में सदियों से यह मान्यता है कि नवरात्रि के 9 दिन मां दुर्गा पृथ्वी पर निवास करती हैं और अपने भक्तों की समस्त परेशानियां दूर करती है। दिवाली पूर्व चलने वाले नवरात्रि महोत्सव का हिंदू संस्कृति में महत्वपूर्ण स्थान है। नवरात्रि के नौ दिन मां दुर्गा की पूजा के साथ गरबा नृत्य और भजन गायक भी होता है। 

नवरात्रि 2023 घटस्थापना मुहूर्त -

कलश स्थापना शुभ मुहूर्त - 
15 अक्टूबर 2023 रविवार
सुबह 11.44 बजे से दोपहर 12.30 बजे तक 
नवरात्रि में प्रथम दिन मां शैलपुत्री की पूजा होती है।

नवरात्रि में सुबह का मुहूर्त -
सुबह 07.51 बजे से सुबह 10.41 बजे तक।
यह सबसे श्रेष्ठ मुहूर्त है।

दोपहर का शुभ समय
दोपहर 01.30 बजे से दोपहर 02.55 बजे तक

शाम का शुभ समय
शाम 05.45 बजे से रात 08.55 बजे तक

नवरात्रि 2023 अष्टमी कब ? 
नवरात्रि में अष्टमी/महाष्टमी 22 अक्टूबर रविवार 2023 को है। नवरात्रि के आठवें दिन मां महागौरी की पूजा होती है।

इस नवरात्रि अश्विन शुक्ल अष्टमी तिथि 21 अक्टूबर 2023 को रात 09.53 मिनट पर शुरू होकर 22 अक्टूबर 2023 को रात 07.58 मिनट तक रहेगी। 

शारदीय नवरात्रि 2023 नवमी कब ? 

शारदीय नवरात्रि की महानवमी 23 अक्टूबर 2023 को है। ये दिन खासतौर पर मां सिद्धिदात्री को समर्पित है।

अश्विन शुक्ल नवमी तिथि 22 अक्टूबर 2023 को रात 07.58 बजे से 23 अक्टूबर 2023 को शाम 05.44 तक रहेगी। नवमी शारदीय नवरात्रि का आखिरी दिन होता है।

शारदीय नवरात्रि में कन्या पूजन 
शारदीय नवरात्रि में कन्या पूजन का विशेष महत्व माना गया है। कन्या पूजन अष्टमी-नवमी दोनों दिन किया जा सकता है। इसके लिए 2-10 साल तक की कन्याओं को भोजन के लिए आमंत्रित किया जाता है।

शारदीय नवरात्रि में व्रत पारणा 

शारदीय नवरात्रि व्रत का पारण 24 अक्टूबर 2023 को सुबह 06.27 मिनट के बाद किया जाएगा। नवरात्रि का व्रत प्रतिपदा तिथि से नवमी तक करना ही शुभ है। व्रत को पूर्ण नवमी तक करना चाहिए, दशमी को व्रत खोलना चाहिए।

Must Read: मंत्री महोदय, कोरोना जात, धर्म या फिर हौहदा नहीं देखता, ये संक्रमण हो गया तो परिणाम आप जानते है, राजसमंद में उपचुनाव इसी की देन

पढें अध्यात्म खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :