Jalore @ अवैध शराब माफिया सक्रिय: कांग्रेस राज में बढ़ रहा है अवैध शराब का कारोबार, जालोर के पुलिस थाने के आसपास दर्जनों अवैध दुकानें संचालित

कांग्रेस सरकार के राज में शराब माफियाओं की मौज हो रही है। हालात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है जालोर जिले में पुलिस थाने के आस—पास दर्जनों शराब की अवैध दुकानें संचालित हैं और आबकारी के साथ पुलिस विभाग आंखें बंद कर बैठा हुआ हैं।

कांग्रेस राज में बढ़ रहा है अवैध शराब का कारोबार, जालोर के पुलिस थाने के आसपास दर्जनों अवैध दुकानें संचालित

राजेन्द्रसिंह दूदौड़
जालोर।
कांग्रेस सरकार के राज में शराब माफियाओं की मौज हो रही है। हालात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है जालोर जिले में पुलिस थाने के आस—पास दर्जनों शराब की अवैध दुकानें संचालित हैं और आबकारी के साथ पुलिस विभाग आंखें बंद कर बैठा हुआ हैं। हाल ही सिरोही के पुलिस अधीक्षक अवैध शराब तस्करी में संलिप्त पाये जाने के बाद संस्पेंड कर दिए गए, बावजूद जालोर पुलिस अवैध शराब तस्करी पर कार्रवाई नहीं कर रही। ऐसे में जालोर पुलिस और जिला आबकारी पर शराब माफियाओं से मिलीभगत के आरोप लग रहे हैं। जानकारी के मुताबिक जालोर जिले भर में करीब 500 से 700 अवैध शराब की दुकानें चल रही है। जिला मुख्यालय सहित भीनमाल पुलिस थाना परिसर के आस-पास में दर्जनों अवैध शराब की दुकानें चल रही है, लेकिन पुलिस प्रशासन को जिले में चल रही अवैध शराब की दुकानें नजर ही नहीं आ रही है। जिम्मेदार अधिकारियों की उदासीनता के कारण शराब माफियाओं के हौसले बढ़े हुए हैं।


लाठी के दम पर अवैध शराब दुकानें
जालोर के गांवों व कस्बों में शराब माफिया लाठी के दम पर अवैध शराब की दुकानें चला रहे है। जालोर जिले के पुलिस थानाधिकारी को अवैध शराब की दुकानों की जानकारी होने के बावजूद भी कार्रवाही नहीं की जाती। जिले के पुलिस के उच्च अधिकारियों को शिकायत करने पर सम्बंधित थानाधिकारी छोटी मोटी अवैध शराब की दुकानों पर कार्रवाई कर अपनी जिम्मेदारी पूरी कर लेते है। जबकि बड़े शराब माफिया सुरक्षित है। कहने को तो जिले में आबाकरी विभाग की ओर से  आवंटित 144 शराब की दुकानें संचालित है, लेकिन इससे कई गुणा दुकानें जिले में चल रही है।
कांग्रेस सरकार के मंत्री को विधायक ने दी सूचना, बावजूद...
जालोर—सिरोही में अवैध शराब के कारोबार को लेकर सिरोही विधायक संयम लोढ़ा ने जिला स्तरीय बैठक में प्रदेश सरकार के खान मंत्री प्रमोद जैन भाया के साथ शिकायत की थी। लोढ़ा ने जिले में शराब की ब्रांच चलाने का मामला मंत्री के सामने उठाया था,बावजूद इन जिलों में अवैध शराब बिक्री और तस्करी पर अंकुश नहीं लग पा रहा।
जसवंतपुरा के इन गांवों में बिक रही है अवैध शराब
गोलाणा में चार स्थानों पर, गजापुरा, उचमत,, वाड़ा-पाडर, विकनवास, पंसेरी,  पावली, बिलड़, चितरोड़ी, कागमाला चौराहा, चारा, वाड़ा भोजा, सामलावास सहित दर्जनों गांवों में अवैध रुप से शराब की बिक्री हो रही है।
रामसीन थाना क्षेत्र
मुड़तला सिल्ली, बोरटा, भरुडी सहित दर्जनों गांवों में अवैध शराब की दुकानें चल रही है।
भीनमाल थाना क्षेत्र इन गांवों में बिक रही अवैध शराब
खांडादेवल, मणदर, सावीदर, पादरा, कारलू, जेरण,  जुंजाणी रोड, रामसीन रोड व जसवंपुरा रोड की होटले पर व भीनमाल कस्बे में शराब के ठेकों के पास ही नमकीन पानी की दुकानों में अवैध शराब की बिक्री हो रही है।
बागोड़ा थाना क्षेत्र में
सेवड़ी, लूणावास, धूम्बिडय़ा गांव के मैन रोड पर, बागोड़ा सिणधरी चौराहा व ग्राम पंचायत के सामने, खेतलावास, नारनाड़ा, तिलोड़ा, चेनपुरा, राउता, पीपलीनाड़ी, लाखनी भालनी, कूड़ा ध्वेचा नादिया, जूना चेनपुरा,थोबड़ावास, जैसावास, तिजलियावस, नरसाणा, सहित दर्जनों गावोंं में अवैध शराब की दुकाने चल रही है।
सायला थाना में 
सियावट, तालियाना, मोकनीखेड़ा, वालेरा, ओटवाड़ा, उम्मेदाबाद, कुआबेर व साफाड़ा सहित दर्जनों गांवा में अवैध शराब बिक रही है।

Must Read: सिरोही जिला पुलिस अधीक्षक की लापरवाही का परिणाम आज हुआ जारी, टाइगर की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :