Animal Husbandry Department : Animal Husbandry Department ने प्रशासन गांवों के संग अभियान के दौरान 21 लाख पशुओं का उपचार और 30 लाख पशुओं का किया टीकाकरण

राजस्थान में प्रशासन गांवों के संग अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत आमजन के विभिन्न विभागों से संबंधित कार्यों को किया जा रहा है। अभियान के तहत लगाए जा रहे शिविर में ग्रामीणों के साथ ही बेजुबां पशुओं का भी इलाज किया जा रहा है।

Animal Husbandry Department ने प्रशासन गांवों के संग अभियान के दौरान  21 लाख पशुओं का उपचार और 30 लाख पशुओं का किया टीकाकरण

जयपुर। Animal Husbandry Department
राजस्थान में प्रशासन गांवों के संग अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत आमजन के विभिन्न विभागों से संबंधित कार्यों को किया जा रहा है।
अभियान के तहत लगाए जा रहे शिविर में ग्रामीणों के साथ ही बेजुबां पशुओं का भी इलाज किया जा रहा है।
शिविर के माध्यम से पशुपालन विभाग ने अब तक 21 लाख पशुओं का उपचार कर दिया। वहीं करीबन 30 लाख पशुओं का टीकाकरण किया गया। 
पशुपालन विभाग के मंत्री लालचंद कटारिया ने बताया कि शिविर में दूर दराज के दुर्गम, पहाड़ी इलाकों के साथ रेगिस्तानी इलाकों में पशुपालकों को सेवाएं दे रहे है।
अभियान के तहत राज्यभर में अब तक 9056 शिविर में 30 लाख 31 हजार पशुओं को कृमिनाशक दवा पिलाई गई। 
वहीं 21 लाख 31 हजार पशुओं को आवश्यक उपचार दिया गया। करीबन 23 लाख 35 हजार पशुओं पर कृमिनाशक दवा का छिड़काव, बांझपन से ग्रसित 1लाख 12 हजार पशुओं के उपचार ​किए गए।

 Animal Husbandry Department

वहीं कृत्रिम गर्भाधान, गर्भ परीक्षण और पशुपालन गतिविधियों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड के आवेदन तैयार करवाए गए।
पशुपालन विभाग की गोष्ठियों में 8.88 लाख पशु पालकों को लाभांवित किया गया। 

पशुपालन विभाग की सचिव डॉ आरुषी मलिक ने बताया कि शिविर में संक्रामक बीमारियों से बचाव के लिए टीकाकरण, कृत्रिम गर्भाधान, बधियाकरण और बांध पशुओं का इलाज भी किया गया।

डेयरी, भेड़-बकरी एवं मुर्गीपालन के लिए पशुपालक किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से अल्पकालीन ऋण सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए आवेदन पत्र भी तैयार करवाए जा रहे हैं। 

Must Read: सिरोही जिले को 1 हजार एमसीएफटी पानी देने के जवाई पुनर्भरण प्रोजेक्ट की समीक्षा की

पढें राज्य खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :