MLA लोढा ने पूछा सवाल: बत्तीसा - सिरोही की निविदा 27 सितम्बर को और जवाई शिवगंज वृहद पेयजल परियोजना की निविदा 6 अक्टूबर को

बत्तीसा-सिरोही वृहद पेयजल परियोजना राशि 408.24 करोड है। इस पेयजल परियोजना की निविदा 27 सितम्बर को खोली जाएगी तथा शिवगंज वृहद् पेयजल परियोजना राशि रूपये 294.09 करोड है।

बत्तीसा - सिरोही की निविदा 27 सितम्बर को और जवाई शिवगंज वृहद पेयजल परियोजना की निविदा 6 अक्टूबर को

सिरोही | राजस्थान विधानसभा में विधायक संयम लोढा ने प्रश्नकाल के दौरान सिरोही जिले में जल मिशन योजना के लंबित कार्याे के सवाल पर जलदाय मंत्री महेश जोशी ने जवाब देते हुए कहां कि बत्तीसा-सिरोही वृहद पेयजल परियोजना राशि 408.24 करोड है। इस पेयजल परियोजना की निविदा 27 सितम्बर को खोली जाएगी तथा शिवगंज वृहद् पेयजल परियोजना राशि रूपये 294.09 करोड है। यह परियोजना की निविदा 6 अक्टूबर को खोली जाएगी। लोढा के परियोजना कब तक पूरी की जाएगी के जवाब में मंत्री ने कहां कि उक्त दोनों पेयजल परियोजनाओं की निविदा प्रक्रिया संबंधी कार्यवाही पूर्ण करते हुए कार्यादेश जारी किये जाकर परियोजनाएं 2024 तक पूर्ण करनी प्रस्तावित हैं।


बत्तीसा-सिरोही वृहद पेयजल परियोजना

विधायक संयम लोढा ने विधानसभा में बत्तीसा-सिरोही व शिवगंज वृहद पेयजल परियोजना के कार्य अब तक प्रारम्भ नही होने का कारण पूछा जिस पर मंत्री महेश जोशी ने जवाब देते हुए कहां कि बत्तीसा-सिरोही वृहद परियोजना में सिरोही के 9, आबू पिण्डवाडा 26 व रेवदर के 1 कुल 36 ग्रामों की पेयजल मांग सम्मिलित करते हुए मिशन के तहत हर घर क्रियाशील जल संबंधों द्वारा 55 लीटर प्रति व्यक्ति प्रतिदिन की दर से पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने हेतु तथा सिरोही जिले के 03 कस्बों सिरोही, पिण्डवाड़ा एवं भावरी की पेयजल मांग उक्त परियोजना के आधारभूत संरचना कार्यों में ली जाकर राज्य स्तरीय योजना स्वीकृति समिति की दिनांक 11 फरवरी 2021 को आयोजित 20वीं बैठक द्वारा राशि रुपये 408.24 करोड़ की प्रथम प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति तथा हिस्सा राशि में परिवर्तन होने के कारण दिनांक 29 नवंबर 21 को आयोजित 30 वीं बैठक द्वारा राशि रुपये 408.24 करोड़  राज्य सरकार एवं भारत सरकार की हिस्सा राशि क्रमशरू रुपये 320.11 करोड़ एवं रूपये 86.40 करोड़ तथा जन सहभागिता राशि रूपये 1.73 करोड़ की संशोधित प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति जारी की गई।

उक्त पेयजल परियोजना परियोजना की दिनांक 18 अगस्त 2022 को राशि रुपये 127.82 करोड़ की संशोधित तकनीकी स्वीकृति जारी की गई।

परियोजना की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति दो बार जारी होने एवं बीएसआर संशोधित होने पर संशोधित तकनीकी स्वीकृति जारी होने व आमंत्रित निविदा मे निविदाकर्ता द्वारा भाग नहीं लेने इत्यादि कारणों से इसका क्रियान्वयन प्रारम्भ करने में विलम्ब हुआ है। उक्त पेयजल परियोजना का क्रियान्वयन प्रारम्भ करने हेतु 24 अगस्त 2022 को आमंत्रित की गई निविदा दिनांक 27 सितम्बर 2022 को खोली जानी प्रस्तावित है।

शिवगंज वृहद् पेयजल परियोजना

विधान सभा क्षेत्र सिरोही शिवगंज की तहसील शिवगंज के 71 ग्रामों में जल जीवन मिशन के तहत हर घर क्रियाशील जल संबंधों द्वारा 55 लीटर प्रति व्यक्ति प्रतिदिन की दर से पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने हेतु राज्य स्तरीय योजना स्वीकृति समिति की दिनांक 11 फरवरी 21 को आयोजित 20 वीं बैठक द्वारा राशि रुपये 294.09 करोड़ की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति जारी की गई। विभागीय नीति निर्धारण समिति की 204 वीं बैठक दिनांक 18 मई 2021 द्वारा उक्त स्वीकृति के अनुमोदन के उपरान्त वित्त विभाग द्वारा दिनांक 05 जुलाई 2021 को वित्तीय सहमति प्रदान की गई। शिवगंज तथा विस्तृत सर्वेक्षण उपरान्त उक्त परियोजना अंतर्गत 68 ग्राम सम्मिलित है। उक्त परियोजना अंतर्गत जवाई बांध में शिवगंज तहसील के उक्त ग्रामों हेतु जल आरक्षण की सहमति दिनांक 04 मई 2022 को प्राप्त होने तथा बीएसआर संशोधित होने पर संशोधित तकनीकी स्वीकृति जारी होने के कारण इसका क्रियान्वयन प्रारम्भ करने में विलम्ब हुआ है। उक्त पेयजल परियोजना का क्रियान्वयन प्रारम्भ करने हेतु दिनांक 30 अगस्त 2022 को आमंत्रित की गई निविदा दिनांक 06 अक्टूबर 2022 को खोली जानी प्रस्तावित है।


लोढा ने पूछा योजना के तहत कौन कौन से कार्य सरकार के स्तर पर लंबित है 
विधायक संयम लोढा ने सवाल में पूछा कि इस योजना के तहत कौन कौन से कार्य सरकार के स्तर पर लंबित है पर जवाब देते हुए मंत्री ने बताया कि सिरोही जिले में कुल सम्मिलित 474 ग्रामों में से 104 ग्राम की पेयजल मांग एवं 100 ग्रामों में पेयजल वितरण प्रणाली के कार्य क का प्रावधान लेते हुए वर्णित दो वृहद् परियोजनाओं में सम्मिलित किये जाकर इनका क्रियान्वयन प्रारम्भ करने हेतु निविदा संबंधी कार्यवाही वर्तमान में प्रक्रियाधीन है।

वृहद् पेयजल परियोजनाओं के अतिरिक्त अन्य जल योजनाओं में उक्त जिले के 222 ग्राम सम्मिलित किये जाकर इन ग्रामों हेतु 213 जल योजनाओं की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति राशि रुपये 352.49 करोड़ की जारी की जाकर इनका क्रियान्वयन किया जा रहा है।जिले के 105 ग्रामों हेतु 104 जल योजनाओं के बनाये गये प्रस्ताव सक्षम स्तर पर स्वीकृति की प्रक्रिया में विचाराधीन हैं। सिरोही जिले के उक्तानुसार शेष रहे 47 ग्रामों में से तहसील आबूरोड की ग्राम पंचायत मूंगथला का 01 ग्राम झामर पूर्व से ही शत प्रतिशत जल संबंधों द्वारा लाभान्वित होने कस्वा आबुरोड सहित इसकी परिसीमा में आने वाले 07 ग्रामों में पेयजल आपूर्ति का कार्य आरयूआईडीपी द्वारा प्रगति पर होने 01 ग्राम वर्तमान में गैर आबाद होने 02 ग्राम भावरी एवं जावाल सेन्सस कस्बों में परिवर्तित होने तथा 36 ग्रामों की वर्तमान आबादी कम बिखरी एवं विस्थापित होने तथा सस्टेनेबल जल स्रोत नहीं मिलने के कारण उक्त मिशन के दिशा निर्देशों के अनुसार इन ग्रामों की जल योजनाओं के प्रस्ताव बनाये जाना तकनीकी एवं आर्थिक दृष्टि से व्यवहारिक नहीं रहा है।

Must Read: 200 वाहनों के काफिले के साथ सचिन पायलट मिलने पहुंचे मृतक दलित छात्र के परिवार से, माना जा रहा शक्ति परीक्षण!

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :