कोटा हिट एंड रन मामले में घायलों को मदद: स्वायत्त शासन मंत्री धारीवाल ने हिट एंड रन मामले में घायलों से की मुलाकात, सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने का दिया आश्वासन

स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने हिट एंड रन मामले में कोटा के मैत्री अस्पताल में उपचाराधीन घायलों से रविवार को मिलकर उनकी कुशलक्षेम पूछी तथा अधिकारियों को इलाज के लिए समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

स्वायत्त शासन मंत्री धारीवाल ने हिट एंड रन मामले में घायलों से की मुलाकात, सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने का दिया आश्वासन

जयपुर।
स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने हिट एंड रन मामले में कोटा के मैत्री अस्पताल में उपचाराधीन घायलों से रविवार को मिलकर उनकी कुशलक्षेम पूछी तथा अधिकारियों को इलाज के लिए समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए।
उन्होंने मृतक दिनेश बागरी के आश्रितों को एक लाख रुपए की आर्थिक सहायता उपलब्ध करवा कर बच्चों का पालनहार योजना एवं पात्रतानुसार परिवार को सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के निर्देश दिए। 
स्वायत्त शासन मंत्री ने उपचाराधीन घायलों के लिए की जा रही व्यवस्थाओं की जानकारी ली तथा इलाज के लिए विशेष टीम गठित करने बेहतर सुविधाऐं उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।
उन्होंने कहा कि इस तरह की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है, भविष्य में इस प्रकार की घटना नहीं हो इसके लिए अधिकारियों को सुधारात्मक कदम उठाने के निर्देश दिए गए है।
उन्होंने मृतक दिनेश बागरी की मॉं को एक लाख रुपए की सहायता राशि का चैक सौंपा तथा आश्वस्त किया कि सरकार की कल्याणकारी योजनाओं में पात्रता के अनुसार चयन कर परिवार के सभी सदस्यों की सहायता की जाएगी।
उन्होंने अधिकारियों को मृतक के सभी बच्चों का विशेष प्रकरण बनाकर पालनहार योेजना में लाभ प्रदान करने, परिवार को रहने के लिए रैन बसेरे में व्यवस्था करने, भोजन के लिए इन्दिरा रसोई योजना में निःशुल्क भोजन उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। 
पुलिस अधीक्षक शहर केसरसिंह ने बताया कि हिट एंड रन के मामले में दोषी के खिलाफ इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने नागरिकों से अपील की है कि शहर में वाहन चलाते समय नियमों का पालन करें अन्यथा पुलिस द्वारा सख्त कार्रवाई की जाएगी।  
घुमन्तु परिवारों का होगा सर्वे
स्वायत्त शासन मंत्री धारीवाल ने कहा कि शहर में अस्थाई रूप से रह रहे सभी घुमन्तु परिवार एवं मोगिया जाति के लोगों का सर्वे करवाकर आवास के लिए निःशुल्क भूमि आवंटन करवाई जाएगी।
उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा ऐसे परिवारों को निःशुल्क भूमि आवंटन का प्रावधान किया हुआ है। इसके साथ ही सभी पात्र परिवारों को पीएम आवास योजना का लाभ भी दिलाया जाएगा।
उन्होंने बताया कि नगर निगम को निर्देश दिए है कि ऐसे परिवार जो खुले में सोते है उन्हें रैन बसेरों में रहने के लिए व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए है।

Must Read: राजस्थान विधानसभा में देवस्थान विभाग की ओर से मंदिरों के विकास व जीर्णाद्धार के लिए की गई घोषणाएं ध्वनिमत से पारित

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :