Gauhar Arrest: दोस्त के घर छिपा हुआ था विवादित नारा लगाने वाला गौहर, हैदराबाद से गिरफ्तार

अजमेर शहर में निकाले गए समुदाय विशेष के मौन जुलूस में विवादित नारा लगाने वाले आरोपी सैयद गौहर चिश्ती को अजमेर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गौहर 19 दिन से फरार था। पुलिस टीम ने उसे हैदराबाद से गिरफ्तार किया।

दोस्त के घर छिपा हुआ था विवादित नारा लगाने वाला गौहर, हैदराबाद से गिरफ्तार
आरोपी सैयद गौहर चिश्ती

अजमेर | भाजपा से निलम्बित नूपुर शर्मा के बयान के विरोध में पिछले दिनों अजमेर शहर में निकाले गए समुदाय विशेष के मौन जुलूस में विवादित नारा लगाने वाले आरोपी सैयद गौहर चिश्ती को अजमेर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गौहर 19 दिन से फरार था। पुलिस टीम ने उसे हैदराबाद से गिरफ्तार किया। बता दें कि, विवादित नारे के मामले में दरगाह थाना पुलिस ने अब तक 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। 
 
मामला दर्ज होने के बाद से था फरार
अजमेर दरगाह शरीफ के गेट पर विवादित नारा लगाने के बाद खादिम मोहल्ला निवासी सैयद गौहर चिश्ती पर पुलिस की ओर से दरगाह थाने में मामला दर्ज किया गया था। जिसके बाद वह अजमेर से फरार हो गया। 

चकमा देने के लिए बार-बार बदल रहा था लोकेशन
सैयद गौहर चिश्ती अजमेर से फरार होने के बाद पुलिस को चकमा देने के लिए लगातार अपनी लोकेशन बदल रहा था। लेकिन गुरुवार शाम पुलिस की साइबर सेल ने गौहर को हैदराबाद में पकड़ ही लिया। 

ये भी पढ़ें:-  कुनबे की एकजुटता में चुनौती: वसुंधरा समर्थकों को संगठनात्मक कार्यक्रमों से रखा दूर या खुद ही बना रखी है दूरी

दोस्त के घर ले रखी थी शरण
गौहर के फरार होने के बाद से ही पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई थी। इसके लिए जिला पुलिस की 7 टीमें तैयार की गई थी जो देश के अलग-अलग राज्यों में भेजी थी। पुलिस टीमें उसकी लोकेशन मिलने के बाद लगातार उसका पीछा कर रही थी। ऐसे में उसके हैदाराबाद में सांई नाथ एरिया में होने के इनपुट मिलने के बाद पुलिस ने उसे धर दबोचा। गौहर अपने दोस्त मुनव्वर के घर पर छिपा हुआ था। पुलिस ने गौहर के साथ में उसके दोस्त मुन्नवर को भी शरण देने आरोप में हिरासत में लिया है। 

 ये भी पढ़ें:- धार्मिक क्षेत्र को मिलेगा बढ़ावा: देश के अन्य ब्रॉडगेज नेटवर्क से सम्पर्क स्थापित करेगी आबूरोड से अंबाजी होकर तारंगाहिल तक रेलवे लाइन

Must Read: राजस्थान में गृह विभाग के आदेशों के बावजूद दर्ज नहीं हो रहे मुकदमें, सिरोही नगर परिषद सभापति के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए विभाग ने 11 माह में 2 बार जारी किए आदेश

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :