चीन में भारी बारिश से बाढ़: चीन के हेनान प्रांत में 24 घंटे में बरसा 18 इंच पानी, बाढ़ से हाल बेहाल, कारे बह गई, मेट्रो में भर गया पानी

कोरोना बीमारी के बाद अब चीन में अब भारी बारिश से बाढ़ आ गई। चीन का हेनान प्रांत में बाढ़ आने से 13 लोगों की मौत हो गई। बाढ़ से प्रभावित करीबन 2 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया। राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने बुधवार को जलमग्न मेट्रो, होटलों और सार्वजनिक स्थानों में फंसे लोगों को बचाने के लिए सेना को तैनात किया।

चीन के हेनान प्रांत में 24 घंटे में बरसा 18 इंच पानी, बाढ़ से हाल बेहाल, कारे बह गई, मेट्रो में भर गया पानी

नई दिल्ली। 
कोरोना बीमारी के बाद अब चीन में अब भारी बारिश से बाढ़ (Rain floods in china) आ गई। चीन का हेनान प्रांत (Henan Province of China)में बाढ़ आने से 13 लोगों की मौत हो गई। बाढ़ से प्रभावित करीबन 2 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया। राष्ट्रपति शी जिनपिंग (President Xi Jinping)ने बुधवार को जलमग्न मेट्रो, होटलों और सार्वजनिक स्थानों में फंसे लोगों को बचाने के लिए सेना को तैनात किया।

बताया जा रहा है कि बांध टूटने से प्रांतीय राजधानी में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है। बताया जा रहा है कि हेनान प्रांत के झेंग्झो शहर में 24 घंटे में रिकॉर्ड 457.5 मिलीमीटर (18 इंच) बारिश हो गई। इससे सड़कें पानी में डूब गईं। बिजली सप्लाई बंद हो गई। वहीं 
झेंग्झो रेलवे स्टेशन (zhengzhou railway station)पर 160 से अधिक ट्रेनें रोक दी गई हैं। यहां के हवाई अड्डे पर शहर आने-जाने वाली 260 उड़ानें रद्द करनी पड़ी हैं। बाढ़ के चलते 80 से अधिक बसों की सेवाएं रद्द कर दी गई हैं। 100 से अधिक बसों के रास्ते बदले गए हैं। सबवे सेवाएं भी अस्थायी रूप से बंद कर दी गई हैं। राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने बाढ़ को बेहद गंभीर बताया है। स्टेट मीडिया में जिनपिंग के हवाले से कहा गया है कि कुछ बांध टूट गए हैं। लोग घायल हुए हैं। जान-माल का नुकसान पहुंचा है। बाढ़ ने हालात को गंभीर बना दिया है। जिनपिंग ने अधिकारियों से राहत और बचाव से जुड़े काम तेज करने के लिए कहा है।


वहीं दूसरी ओर सोशल मीडिया पर कई वीडियो वायरल हो रहे है। एक वीडियो में मेट्रो ट्रेन बाढ़ के पानी से भर गई और यात्रियों के गले तक पानी आ गया। इससे लोगों को सांस लेने में परेशानी हो रही है। मेट्रो के गेट भी बंद है जिससे यात्री निकल नहीं पा रहे हैं। चीनी सोशल मीडिया में लोगों ने वीडियो जारी करके बताया कि शकोउलू रेलवे स्टेशन पर कई यात्री डूबकर मर गए। हालांकि इस दावे की पुष्टि नहीं हो सकी है।