Uzbekistan @ भारतीय निर्वाचन आयोग : भारतीय निर्वाचन आयोग को उज्बेकिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव से पूर्व कार्यवाही के निरीक्षण का दिया ​आमंत्रण

उज्बेकिस्तान में अक्टूबर माह में राष्ट्रपति का चुनाव होने वाला है। राष्ट्रपति के चुनाव से पूर्व वहां की सरकार ने भारतीय निर्वाचन आयोग को निरीक्षण करने के लिए आमंत्रित किया है। भारतीय निर्वाचन आयोग का प्रतिनिधि मंडल चुनाव प्रक्रिया के निरीक्षण के लिए भेजा जा सकता हैं।

भारतीय निर्वाचन आयोग को उज्बेकिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव से पूर्व कार्यवाही के निरीक्षण का दिया ​आमंत्रण

नई दिल्ली,एजेंसी।
उज्बेकिस्तान में अक्टूबर माह में राष्ट्रपति का चुनाव होने वाला है। राष्ट्रपति के चुनाव से पूर्व वहां की सरकार ने भारतीय निर्वाचन आयोग को निरीक्षण करने के लिए आमंत्रित किया है। भारतीय निर्वाचन आयोग का प्रतिनिधि मंडल चुनाव प्रक्रिया के निरीक्षण के लिए भेजा जा सकता हैं। भारत में उज्बेकिस्तान के राजदूत दिलशोद अखतोव ने इस बात की पुष्टि की है। उज्बेकिस्तान में 24 अक्टूबर को राष्ट्रपति के चुनाव होने वाले है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक 15 सितंबर को लोक तांत्रिक संस्थानों और मानवाधिकारों के कार्यालय ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए चुनाव अवलोकन मिशन शुरू किया है। इसके अलावा भारत समेत विभिन्न देशों के कई अंतर राष्ट्रीय पर्यवेक्षक आगामी चुनावों में हिस्सा लेंगे। उज्बेकिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव के लिए 20 सितंबर से प्रचार शुरू हो गया है। 14 सितंबर को इलेक्शन कमीशन ने चुनावों को लेकर पांच उम्मीदवारों का पंजीयन किया था। जबकि उज्बेकिस्तान के वर्तमान राष्ट्रपति शौकत मिर्जियोयेव को लिबरल डेमोक्रेटिव पार्टीने फिर से राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाकर मैदान में उतार दिया। इनके अलावा सोशल डेेमोक्रेटिव पार्टी के बखरोम अब्दुखलीमोव, राष्ट्रीय पुनरुद्धर के अलीशेर कादिरोव और इकोलाजिकल दलों से नारजुलो ओब्लोमुराडोव शामिल है। उज्बेकिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव के लिए एक महिला उम्मीदवार मक्सुदा वरिसोवा भी मैदान में है। चुनाव की घोषणा होने के साथ ही वर्तमान राष्ट्रपति भी चुनाव कार्यक्रम में व्यस्त हो गए। आपको बता दें कि उज्बेकिस्तान के चुनाव नियमों के अनुसार यहां राष्ट्रपति को पांच साल के कार्यकाल के लिए चुना जाता है। राष्ट्र​पति के चुनाव के लिए उम्मीदवार की उम्र 35 साल होना आवश्यक है और किसी पंजीकृत राजनीतिक दल के उम्मीदवार ही हो।

Must Read: कॉपी राइट एक्ट का हवाला देते हुए सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्वीटर ने देश के आईटी मंत्री रवि शंकर प्रसाद को किया ब्लॉक

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :