Health @ नि:शुल्क औषधी वितरण अ​भियान : Healthy rajasthan के तहत बच्चों और महिलाओं के लिए Ayurveda Department जनवरी में शुरू करेगा नि:शुल्क औषधी वितरण अभियान

प्रदेश में निरोगी राजस्थान के संकल्प को पूरा करने के लिए बच्चों व महिलाओं के लिए आयुर्वेद विभाग एक जनवरी 2022 से निःशुल्क औषधी वितरण अभियान चलाएगा। प्रदेश के विभिन्न माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों में छात्राओं को एनिमिया, कुपोषण जैसी बीमारियों से मुक्त करने के लिए अभियान चलाया जाएगा।

Healthy rajasthan के तहत बच्चों और महिलाओं के लिए Ayurveda Department  जनवरी में शुरू करेगा नि:शुल्क औषधी वितरण अभियान

जयपुर। "Nihshulk Aushadhee Vitaran Abhiyaan"-
प्रदेश में निरोगी राजस्थान के संकल्प को पूरा करने के लिए बच्चों व महिलाओं के लिए आयुर्वेद विभाग एक जनवरी 2022 से निःशुल्क औषधी वितरण अभियान (Nihshulk Aushadhee Vitaran Abhiyaan) चलाएगा। आयुर्वेद एवं भारतीय चिकित्सा पद्धति राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग (Dr. Subhash Garg) ने आयुर्वेद विभाग एवं राष्ट्रीय आयुष मिशन, राजस्थान स्टेट आयुष सोसायटी, जयपुर से संबंधित प्रकरणों की प्रताप नगर स्थित आयुष भवन में समीक्षा बैठक में अधिकारियों को इस दिशा में आवश्यक कदम उठाने के लिए निर्देशित किया है। डॉ गर्ग ने कहा कि निरोगी राजस्थान के संकल्प को पूरा करने के लिए प्रदेश के विभिन्न माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों में छात्राओं को एनिमिया, कुपोषण जैसी बीमारियों से मुक्त करने के लिए अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने अभियान चलाकर औषधियों के वितरण करने संबंधी निर्देश प्रदान किए। इसके साथ ही गांव-गांव, ढ़ाणी-ढ़ाणी में आयुर्वेद, होम्योपैथी एवं यूनानी औषधालयों के माध्यम से भी महिलाओं व बच्चों को निःशुल्क औषधियों के वितरण के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए गए।


माह में योग महाविद्यालयों के लिए शिलान्यास करवाने के निर्देश
डॉ. सुभाष गर्ग ने बजट में घोषित किए गए 6 योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा महाविद्यालय (College of Yoga and Naturopathy)के लिए दिसम्बर 2021 तक भूमि चिन्हित कर शिलान्यास करवाने के लिए निर्देश दिए। इसके साथ ही योग व प्राकृतिक चिकित्सा महाविद्यालय, होम्योपैथी महाविद्यालय में इसी सत्र से प्रवेश प्रारम्भ करने हेतु निर्देशित किया। 
पीपीपी मोड पर मेडिट्यूरिज्म सेंटर्स शीघ्र होंगे प्रारंभ
Rajasthan में आयुष पर्यटन को बढ़ावा देने के उददेश्य से नाथद्वारा एवं अन्य चिन्हित स्थानों पर पीपीपी मोड पर मेडिट्यूरिज्म सेन्टर्स शीघ्र प्रारंभ करने हेतु कार्य योजना बनाकर शीघ्र प्रारम्भ करने, बजट वर्ष 2021-22 में घोषित 58 ब्लॉक मुख्यालयों पर आयुष चिकित्सालयों को शीघ्र कियाशील करने एवं 500 आयुष हैल्थ एण्ड वैलनेस सेन्टर्स विकसित करने संबंधी निर्देश प्रदान किये। उन्होंने आयुर्वेद विभाग के सभी औषधालय एवं चिकित्सालय ऑनलाइन करते हुए इनकी सेवाओं में निरन्तर सुधार करते हुए औषधी वितरण को और प्रभावी करने हेतु आदेशित किया। विभाग में लम्बित पदोन्नतियों एवं खाली पदों पर भर्तियों को समयबद्ध तरीके से पूर्ण करने, बैकलॉग की स्थिती विभिन्न विभागीय रसायनशालाओं में औषध निर्माण, गुणवत्ता नियंत्रण, वितरण व्यवस्था एवं कम्प्यूटरीकरण आदि के संबंध में प्रभावी कार्यवाही हेतु निर्देश प्रदान किये। बैठक में विभागीय शासन सचिव विनीता श्रीवास्तव, उपशासन सचिव रामानन्द शर्मा, निदेशक आयुर्वेद सीमा शर्मा, अतिरिक्त निदेशक डॉ. आनंद कुमार विशेषाधिकारी डॉ. गिरधर गोपाल परियोजना निदेशक डॉ. विजय प्रकाश गौतम, प्राचार्य डॉ. महेश दीक्षित, एवं अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Must Read: योगी राज में लखनऊ में फर्राटा भरेगी मेट्रों ट्रेन, इन सात रूटों जल्द ही शुरू होने जा रहा काम

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :