पाकिस्तान में पहली हिंदू महिला DSP: सिंध प्रांत के जैकबाबाद ​की 26 वर्षीय हिंदू बेटी मनीषा बनी पाकिस्तान की पहली हिंदू DSP

हिंदू समुदाय की  स्थिति दयनीय होने के बावजूद यहां की मनीषा रोपेटा ( Manisha Ropeta ) पहली महिला DSP बन गई हैं। 26 साल की मनीषा रोपेटा मूलरूप से सिंध प्रांत के जैकबाबाद जिले की रहने वाली हैं।

सिंध प्रांत के जैकबाबाद ​की 26 वर्षीय हिंदू बेटी मनीषा बनी पाकिस्तान की पहली हिंदू DSP

नई दिल्ली। 
पाकिस्तान में हिंदुओं के हालात विश्व के सामने है। इन सब के बावजूद इसी पाकिस्तान में हिन्दू समुदाय की एक लड़की ने ऐसा कमाल किया है, जिसकी चर्चा हर ओर हो रही है। हिंदू समुदाय की  स्थिति दयनीय होने के बावजूद यहां की मनीषा रोपेटा ( Manisha Ropeta ) पहली महिला DSP बन गई हैं। 26 साल की मनीषा रोपेटा मूलरूप से सिंध प्रांत के जैकबाबाद जिले की रहने वाली हैं। मनीषा ने हाल ही में सिंध लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित परीक्षा में 16वां स्थान हासिल किया है।
बताया जा रहा है कि पाकिस्तान में इस मुकाम को हासिल करने वाली यह पहली हिन्दू महिला बन गई हैं। इस उपलब्धि को लेकर मनीषा की हर ओर चर्चा हो रही है। कई साल पहले मनीषा पूरे परिवार के साथ करांची शिफ्ट कर गई थीं। यहां पहले उन्होंने फिजियोथेरेपी में डॉक्टरेट की उपाधि हासिल की। इसके बाद अब DSP बन गई हैं। सिंध लोक सेवा आयोग की परीक्षा में 152 उम्मीदवारों को सफलता मिली है, इसमें मनीषा ने 16वां स्थान हासिल किए हैं।


सोशल मीडिया पर तस्वीर वायरल
ट्वीटर पर एक यूजर ने उनकी एक तस्वीर भी शेयर की है। इसे फोटो को लोग लगातार पसंद कर रहे है। वहीं, तकरीबन पांच सौ लोगों ने री—ट्वीट भी किया हैं। सोशल मीडिया पर भी अब उनकी चर्चा हो रही हैं। मनीषा को लोग लगातार बधाई दे रहे हैं। 

Must Read: यूक्रेन से दिल्ली एयरपोर्ट पहुंची 6 उड़ानों में राजस्थान के 47 विद्यार्थी शामिल, एयरपोर्ट पर 3 मंत्रियों सहित अधिकारियों ने की छात्रों की अगवानी

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :