मौत ने एक ऑटो में बैठाया 12 महिलाओं को: एमपी के ग्वालियर में बस की ऑटो से भिड़ंत, 12 महिलाओं सहित 13 की मौत, सीएम ने दी 4 लाख रुपए की सहायता, पीएम ने व्यक्त की संवेदना

मध्यप्रदेश के ग्वालियर में मंगलवार सुबह ऑटो और बस की आमने-सामने से भिडंत हो गई। सड़क हादसे में 13 लोगों की मौत हो गई। इनमें ऑटो ड्राइवर और इसमें बैठी 12 महिलाएं शामिल हैं। सभी महिलाएं रात को आंगनबाड़ी में स्कूली बच्चों के लिए खाना बनाकर लौट रही थीं।

एमपी के ग्वालियर में बस की ऑटो से भिड़ंत, 12 महिलाओं सहित 13 की मौत, सीएम ने दी 4 लाख रुपए की सहायता, पीएम ने व्यक्त की संवेदना

जयपुर।
मध्यप्रदेश के ग्वालियर में मंगलवार सुबह ऑटो और बस की आमने-सामने से भिडंत हो गई। सड़क हादसे में 13 लोगों की मौत हो गई। इनमें ऑटो ड्राइवर और इसमें बैठी 12 महिलाएं शामिल हैं। सभी महिलाएं रात को आंगनबाड़ी में स्कूली बच्चों के लिए खाना बनाकर लौट रही थीं। 9 महिलाओं और ऑटो ड्राइवर की तो मौके पर ही मौत हो गई। जबकि तीन महिलाओं को अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें भी मृत घोषित कर दिया गया।
ऑटो ग्वालियर से मुरैना रोड पर चमन पार्क की तरफ जा रहा था, जबकि बस मुरैना से ग्वालियर आ रही थी। हादसा आनंदपुर ट्रस्ट अस्पताल के सामने हुआ। स्थानीय लोगों की सूचना पर पुरानी छावनी थाने की पुलिस मौके पर पहुंच चुकी है। मृतकों में से 9 की पहचान हो गई है। सभी शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। इस मामले में ग्वालियर RTO एपीएस चौहान को सस्पेंड कर दिया गया है। चश्मदीदों ने बताया कि हादसे में जान गंवाने वाली सभी 12 महिलाएं दो ऑटो से लौट रही थीं। इनमें से एक ऑटो में सिर्फ 3 सवारी बैठाने की कैपेसिटी थी, लेकिन 6 बैठाई गई थीं। रास्ते में एक ऑटो खराब हो गया। तब इसमें बैठी 6 महिलाएं साथ चल रहे दूसरे ऑटो में बैठ गईं। इस तरह एक ही ऑटो में 12 सवारी हो गईं। उन्होंने तय किया था कि पुरानी छावनी से दूसरा ऑटो कर लेंगे, लेकिन शायद मौत ने ही उन्हें एक ऑटो में किया था।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिजन को 4-4 लाखों रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है। वहीं  घायलों को 50 हजार रुपए की मदद देने का ऐलान किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया पर ट्वीट कर मृतकों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।