मोदी के कैबिनेट मंत्री का फेसबुक हैक: केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का फेसबुक अकाउंट हैक, मोदी सरकार के खिलाफ पोस्ट किए गए वीडियो अपलोड

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में शामिल केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का फेसबुक अकाउंट हैक हो गया। इतना ही नहीं, सिंधिया के फेसबुक अकाउंट से हैकर ने मोदी सरकार के खिलाफ पोस्ट वीडियो भी अपलोड कर दिए गए। हालांकि समय रहते आईटी विशेषज्ञों की मदद से अकाउंट रिकवर कर लिया गया।

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का फेसबुक अकाउंट हैक, मोदी सरकार के खिलाफ पोस्ट किए गए वीडियो अपलोड

नई दिल्ली।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की कैबिनेट में शामिल केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया(Union Minister Jyotiraditya Scindia) का फेसबुक अकाउंट हैक (Facebook account hacked) हो गया। इतना ही नहीं, सिंधिया के फेसबुक अकाउंट से हैकर ने मोदी सरकार के खिलाफ पोस्ट वीडियो भी अपलोड कर दिए गए। हालांकि समय रहते आईटी विशेषज्ञों की मदद से अकाउंट रिकवर कर लिया गया। जानकारी के मुताबिक किसी ने रात 12:23 बजे उनकी फेसबुक वॉल पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ आक्रामक भाषण वाले पुराने वीडियो अपलोड कर दिए। इनमें वे मोदी सरकार की कमियां गिनाते हुए दिखाई दे रहे हैं। वीडियो उस वक्त के हैं, जब सिंधिया कांग्रेस में हुआ करते थे। यह खबर जैसे ही फैली, तो साइबर टीम एक्टिव हुई। दावा किया जा रहा है कि कुछ ही मिनट में हैकिंग को रोक लिया गया। इसके साथ—साथ ही अपलोड पुराने वीडियो हटा दिए गए। जिस डेटा से छेड़छाड़ की गई है, वह भी रिकवर हो गया है।
सिंधिया समर्थक घाटगे ने की पुष्टि
फेसबुक अकाउंट हैक की सबसे पहले भोपाल में सिंधिया समर्थक कृष्णा घाटगे ने इसकी पुष्टि की है। गुरुवार दोपहर पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल की शिकायत पर ग्वालियर के क्राइम ब्रांच थाने में अज्ञात हैकर पर FIR दर्ज कर ली गई है। मार्च 2020 में कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए सिंधिया को बुधवार को मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल कर लिया गया। उनको कैबिनेट मंत्री बनाते हुए सिविल एविएशन की जिम्मेदारी दी गई है। वे राज्यसभा से सांसद हैं। सिंधिया का फेसबुक अकाउंट हैक होने की खबर से हड़कंप मच गया। अकाउंट पर साइबर टीम पल-पल की नजर रखती है। ऐसे में जैसे ही हैकिंग का पता लगा, तत्काल एक्सपर्ट ने मोर्चा संभाल लिया। कुछ ही मिनट में हैकिंग को रोक दिया गया। इसके बाद अपलोड किए गए फोटो, वीडियो हटा दिए गए। वहीं बताया जा रहा है कि ग्वालियर में इस मामले में दिल्ली से केन्द्रीयमंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से मिलने के बाद उनके समर्थक व पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल क्राइम ब्रांच थाना पहुंचे और हैकिंग के संबंध में शिकायत की। क्राइम ब्रांच ने मामले में आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। अब मामले की जांच क्राइम ब्रांच करेगी।

Must Read: दिल्ली स्टार्टअप ने बाइकर्स के लिए विकसित किया प्रदूषण रोधी हेलमेट

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :