Jaipur राजीव-21 डिजिटल क्विजथॉन पुरस्कार: Rajasthan में सूचना तकनीक के व्यापक उपयोग से प्रदेश ई—गवर्नेंस के क्षेत्र में अग्रणी: सीएम गहलोत

सीएम शुक्रवार को मुख्यमंत्री निवास पर वीसी के माध्यम से राजीव-2021 डिजिटल क्विजथॉन विजेताओं केे पुरस्कार वितरण समारोह में संबोधित कर रहे थे।

Rajasthan में सूचना तकनीक के व्यापक उपयोग से प्रदेश ई—गवर्नेंस के क्षेत्र में अग्रणी: सीएम गहलोत

जयपुर।
प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि आज सूचना तकनीक का महत्व हर क्षेत्र में बढ़ गया, फिर चाहे वह शासन हो, प्रशासन हो 
 या फिर जीवन का हर क्षेत्र। 
राजस्थान में राज्य सरकार ने सूचना प्रौद्योगिकी का अधिकाधिक उपयोग सुनिश्चित कर ई गवर्नेंस को बढ़ावा दिया है। 
इससे प्रदेश संवेदनशीलता, पारदर्शिता और जवाबदेहता से सुशासन की दिशा में आगे बढ़ रहा है। 
राज्य सरकार ने अंग्रेजी माध्यम के महात्मा गांधी स्कूल, मुख्यमंत्री अनुप्रति योजना, राजीव गांधी स्कॉलरशिप योजना, कालीबाई भील मेधावी योजना संचालित कर विद्यार्थियों को बेहतर भविष्य बनाने की दिशा में मदद की है। 
सीएम शुक्रवार को मुख्यमंत्री निवास पर वीसी के माध्यम से राजीव-2021 डिजिटल क्विजथॉन विजेताओं केे पुरस्कार वितरण समारोह में संबोधित कर रहे थे।


समारोह में सीएम गहलोत ने क्विजथॉन के जयपुर जिले के 20 विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किए। 
इनमें प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले 9 विजेताओं को टैब और द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले 11 विजेताओं को मोबाइल फोन दिया गया।
इसके अलावा क्विजथॉन में 29 जिलों के 165 विजेताओं को पुरस्कार दिए गए हैं। 
विजेताओं को पुरस्कार स्वरूप 75 प्रतिभागियों को एक-एक टैब तथा 90 प्रतिभागियों को एक-एक मोबाइल फोन दिया गया है। 
इस दौरान सीएम ने क्विजथॉन के विजेताओं से संवाद भी किया। 
सीएम ने कहा कि यह शुभ संकेत है कि युवा जागरूकता के साथ राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ लेकर और आईटी का उपयोग कर आगे बढ़ रहे हैं।
गहलोत ने कहा कि नई पीढ़ी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू, सरदार पटेल, मौलाना आजाद, डॉ. भीमराव अम्बेडकर, स्व. इंदिरा गांधी, स्व. राजीव गांधी जैसे महान नेताओं की देश के विकास के प्रति सोच और सिद्धांतों को अपनाकर आगे बढ़ें। 
गहलोत ने अपील की कि शिक्षा के साथ-साथ युवा सामाजिक सेवा के क्षेत्र में भी काम करें, इससे उन्हें नये अनुभव मिलेंगे और उनके व्यक्तित्व का विकास होगा। 
संवाद के दौरान जब मुख्यमंत्री ने विद्यार्थियों से राज्य सरकार की योजनाओं के बारे में पूछा तो विद्यार्थियों ने कहा कि अंग्रेजी माध्यम के महात्मा गांधी स्कूल की योजना से ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों का आत्मविश्वास बढ़ रहा है। 
मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना से विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए संबल मिला है।
इसके साथ ही चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा तथा उड़ान जैसी योजनाओं से स्वास्थ्य सुरक्षा सुनिश्चित हो रही है। 
समारोह में उच्च शिक्षा राज्य मंत्री राजेन्द्र सिंह यादव ने कहा कि क्विजथॉन ने युवाओं में उत्साह का संचार किया है। 
इनमें 17 से 23 आयु वर्ग के 59 हजार 568 विद्यार्थियों ने पंजीयन कराया था। 
इसमें 29 जिलों के 165 विद्यार्थी विजेता रहे। इस प्रतियोगिता में प्रथम तीन स्थान पर छात्राएं रही हैं। 
उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा विभाग आगे भी ऎसे आयोजन जारी रखने का प्रयास करेगा।
शासन सचिव उच्च शिक्षा एनएल मीना ने स्वागत उद्बोधन दिया।
आयुक्त उच्च शिक्षा शुचि त्यागी ने प्रतियोगिता के उद्देश्य और सम्पूर्ण प्रक्रिया की जानकारी दी। 
आपदा प्रबंधन मंत्री गोविन्द राम मेघवाल, जल संसाधन राज्यमंत्री भंवर सिंह भाटी, अन्य जनप्रतिनिधि एवं जिला कलेक्टर, उच्च शिक्षा विभाग के अधिकारी और विजेता विद्यार्थी वीसी के माध्यम से कार्यक्रम में शामिल हुए।

Must Read: Invest Rajasthan 2022 से पहले आज जयपुर इंवेस्टमेंट समिट में 23 हजार 528 करोड़ के एमओयू व एलओआई किए साइन

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :