President का अंगरक्षक विराट को विदाई : राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद का बॉडीगार्ड और अंगरक्षक घोड़ा विराट को मोदी ने दी विदाई, राजधानी दिल्ली में विराट करता था राष्ट्रपति को एस्कॉर्ट

देश के 73वें गणतंत्र दिवस पर आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का बॉडीगार्ड और अंगरक्षक घोड़े को राजपथ से विदाई दी गई। राष्ट्रपति के बॉडीगार्ड घोड़ा विराट को सेवानिवृत्त किया गया। 

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद का बॉडीगार्ड और अंगरक्षक घोड़ा विराट को मोदी ने दी विदाई, राजधानी दिल्ली में विराट करता था राष्ट्रपति को एस्कॉर्ट

नई दिल्ली, एजेंसी। 
देश के 73वें गणतंत्र दिवस पर आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का बॉडीगार्ड और अंगरक्षक घोड़े को राजपथ से विदाई दी गई। राष्ट्रपति के बॉडीगार्ड घोड़ा विराट को सेवानिवृत्त किया गया। 
इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने विराट को​ विदाई दी। आपको बता दें कि राष्ट्रपति का अंगरक्षक घोड़ा विराट देश की राजधानी नई दिल्ली में होने वाले समारोह में राष्ट्रपति को एस्कॉर्ट करता है। इसलिए रेजिमेंट नई दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में ​ही स्थित है।


राष्ट्रपति के अंगरक्षक के कमांडेंट कर्नल अनूप तिवारी ने बताया कि पीबीजी भारतीय सेना की एक कुलीन घरेलू घुड़सवार रेजिमेंट है, जो दो शताब्दियों से अधिक समय से राष्ट्रपतियों की सेवा में है। 
यह रेजिमेंट  भारतीय सेना की सबसे वरिष्ठ रेजिमेंट है। इसका मुख्य उद्देश्य किसी भी राष्ट्रीय समारोह में राष्ट्रपति की रक्षा करना है। 
आपको बता दें कि यह हनोवेरियन नस्ल का घोड़ा है। इसका नाम विराट है। विराट की रेजिमेंट में अलग ही पहचान है। इस विराट ने एक दशक से भी अधिक समय तक रेजिमेंट में कमांडेंट के चार्ज के तौर पर अपने कर्तव्यों की पालना की है। 
थन सेना दिवस पर 15 जनवरी 2022 को विराट को सम्मानित किया गया। विराट घोड़े को थल सेनाध्यक्ष प्रशस्ति से सम्मानित किया गया था। आज गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान राष्ट्रपति कोविंद, पीएम मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने विराट को विदाई दी।

Must Read: Union Education Minister Dharmendra Pradhan ने 100 दिवसीय पठन अभियान पढ़े भारत का किया शुभारंभ, युवा मित्रों से पठन सामग्री साझा करने क आह्वान

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :