ज्ञानवापी पर राजनीति! : महबूबा मुफ्ती बोलीं- वे हमारी मस्जिदों के पीछे पड़े हैं 'इनको मस्जिद में ही मिलता है भगवान ...

ओवैसी ने इस मामले पर बयान दिया था और अब सोमवार को जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि आखिर मस्जिदों में ही भगवान क्यों मिलते हैं? उन्होंने इसके लिए केन्द्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि, वे हमारी सभी मस्जिदों के पीछे पड़े हुए हैं।

महबूबा मुफ्ती बोलीं- वे हमारी मस्जिदों के पीछे पड़े हैं 'इनको मस्जिद में ही मिलता है भगवान ...
Mehbooba Mufti

नई दिल्ली | वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर आज सर्वे का काम पूरा हो गया है। जिसमें वहां शिवलिंग मिलने के दावों के बाद ये मामला अब और भी गंभीर होता जा रहा है। इस मामले पर राजनीतिक पार्टियों की भड़काऊ बयानबाजी शुरू हो चुकी हैं। पहले ओवैसी ने इस मामले पर बयान दिया था और अब सोमवार को जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि आखिर मस्जिदों में ही भगवान क्यों मिलते हैं? उन्होंने इसके लिए केन्द्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि, वे हमारी सभी मस्जिदों के पीछे पड़े हुए हैं। पहले बाबरी और अब ज्ञानवापी। आपको बता दें कि, आज सोमवार को कोर्ट के आदेश के अनुसार कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच ज्ञानवापी मस्जिद परिसर का सर्वे कार्य पूरा हो गया है।

ये भी पढ़ें:- Tripura New Cabinet : त्रिपुरा में माणिक साहा मंत्रिमंडल में भाजपा के 9 और आईपीएफटी के दो विधायकों ने ली शपथ

जिन मस्जिदों नजर, उनकी एक लिस्ट दे दें बीजेपी
सोमवार को एक संवाददाता सम्मेलन में जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि केंद्र मस्जिद के मुद्दे को उठाकर मंहगाई और बेरोजगारी जैसे मुद्दे से जनता का ध्यान भटकाने वाली राजनीति कर रही है। मुफ्ती ने कि बीजेपी हमें उन मस्जिदों की एक लिस्ट दे दें जिन पर उनकी नजर है। मुफ्ती ने कहा कि इसको लेकर लोगों में गुस्सा है, लेकिन वे इसके खिलाफ प्रदर्शन करने से डर रहे हैं क्योंकि लोगों को डर है कि अगर वे प्रदर्शन करेंगे तो उन पर मामला दर्ज हो जाएगा।

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी का पलटवार, कहा- इतिहास के पन्ने खोलकर पढ़े महबूबा मुफ्ती
ज्ञानवापी मस्जिद विवाद पर महबूबा मुफ्ती के इस तरह के बयान आने के बाद केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने भी उनपर पलटवार करते हुए कहा है कि, उन्हें इतिहास के पन्ने पलट कर देखने चाहिए ताकि, पूरा सच मालूम चल सके। मीनाक्षी लेखी ने कहा कि, मैं असदुद्दीन ओवैसी और महबूबा मुफ्ती को शांति और भाईचारे का संदेश देना चाहती हूं अगर वो कुछ इतिहास के पन्ने खोलकर पढ़े तो उनकी बंद बुद्धि खुल जाएगी। आपको बता दें कि, ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे के दौरान शिवलिंग मिलने का दावा भी किया जा रहा है। ऐसे में अब ये मामला और भी गंभीर होता जा रहा है। 

ये भी पढ़ें:- ज्ञानव्यापी मस्जिद का सर्वे पूरा, शिवलिंग मिलने के बाद कोर्ट का आदेश, केवल 20 लोग ही कर सकेंगे नमाज अदा

Must Read: उत्तरप्रदेश के लखीमपुर हादसे मामले में गहलोत ने यूपी सरकार को बताया तानाशाही, सोशल मीडिया पर गहलोत ने जारी किया बयान

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :