टॉयलेट घोटाले में वैभव का नाम: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे पर महाराष्ट्र के पुलिस थाने में Case दर्ज, ई टायलेट टेंडर में घोटाले के आरोप

अब अशोक गहलोत अपने बेटे वैभव गहलोत को लेकर विपक्ष के निशाने पर आ गए। 2023 के चुनाव से पहले भ्रष्टाचार के मामले में अशोक गहलोत के बेटे का नाम आने से भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष ने गंभीर आरोप लगाए।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे पर महाराष्ट्र के पुलिस थाने में Case दर्ज, ई टायलेट टेंडर में घोटाले के आरोप

जयपुर। 
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की परेशानियां कम होने का नाम ही नहीं ले रही। कभी पायलट गुट का हावी होना तो कभी विधायकों की बयानबाजी को लेकर परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं। 
अब अशोक गहलोत अपने बेटे वैभव गहलोत को लेकर विपक्ष के निशाने पर आ गए। 2023 के चुनाव से पहले भ्रष्टाचार के मामले में अशोक गहलोत के बेटे का नाम आने से भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष ने गंभीर आरोप लगाए।


भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने सोशल मीडिया पर ट्वीट कर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तथा उनके बेटे पर निशाना साधा।

पूनिया ने लिखा कि मुख्यमंत्री जी के सुपुत्र का नाम इन मराठी ख़बरों में सुनाई दे रहा है, माननीय मुख्यमंत्री जी को स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। राजस्थान की जनता सिर्फ़ सच्चाई जानना चाह रही है।

जानकारी के मुताबिक आरोप लगा है कि वैभव गहलोत सहित अन्य लोगों ने राजस्थान में ई- टायलेट बनाने का टेंडर दिलाने के नाम पर घोटाला किया।

महाराष्ट्र के नासिक में इसको लेकर साठगांठ की गई। इसमें छह मामले में करीबन छह करोड़ रुपए के भ्रष्टाचार की बात सामने आई है।

इसमें कोर्ट के आदेश के बाद वैभव सहित 15 लोगों पर मामला दर्ज किया गया है। नासिक के गंगापुर पुलिस स्टेशन में इस मामले में 15 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ।

इसमें अहमदाबाद व जोधपुर के लोगों के शामिल होना बताया गया है। इसके बाद राजस्थान की राजनीति में भूचाल सा आ गया।


वहीं भाजपा राजस्थान के सोशल मीडिया अकाउंट से भी इस मामले को ट्वीट किया जा रहा है। इस पर लिखा गया है कि 
अब मुख्यमंत्री गहलोत के बेटे वैभव गहलोत द्वारा राजस्थान में ई- टायलेट बनाने का टेंडर दिलाने के नाम पर घोटाला!
महाराष्ट्र की अदालत के आदेश पर दर्ज हुआ मुकदमा! 
गहलोत जी, सरकार तो सरकार, परिवार भी भ्रष्टाचार में लगा है!!


हालांकि, इस मामले के बाद वैभव गहलोत ने भी सोशल मीडिया पर ट्वीट किया हैं। वैभव ने लिखा कि मुझे इस मामले की जानकारी तक नहीं है। वैभव के ट्वीट के अनुसार मीडिया में किसी प्रकरण को लेकर जिस तरह चल रहा है, जिसमें मेरा नाम भी डाला गया है, मुझे उसके बारे में कोई जानकारी नहीं है और मेरा इस सब से कोई सम्बन्ध नहीं है। हम सभी जानते हैं कि जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आएंगे झूठे आरोपों के साथ-साथ ऐसी कारस्तानियां और मैनिपुलेटेड बातें सामने आएंगी।

Must Read: वाह री सरकार, Covid review meeting में चिकित्सकों ने न्यू ईयर जश्न रोकने का दिया सुझाव, सरकार ने न्यू ईयर तक दे दी छूट

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :