Tokyo Paralympic सीएम की सौगात: टोक्यो पैरालिंपिक गेम्स में राजस्थान का नाम रोशन करने वाले खिलाड़ी अवनि, देवेंद्र और सुंदर को ईनाम की धोषणा

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पैरालिम्पिक खेलों में पदक जीतकर प्रदेश का नाम रोशन करने वाले खिलाड़ियों को हार्दिक बधाई देते हुए उनके लिए ईनामी राशि की घोषणा की है। गहलोत ने स्वर्ण पदक विजेता शूटर अवनी लेखरा को 3 करोड़ रूपए, रजत पदक विजेता जेवलिन थ्रोअर देवेन्द्र झांझडिया को दो करोड़ रूपए तथा कांस्य पदक विजेता जेवलिन .....

टोक्यो पैरालिंपिक गेम्स में राजस्थान का नाम रोशन करने वाले खिलाड़ी अवनि, देवेंद्र और सुंदर को ईनाम की धोषणा

जयपुर।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot)ने पैरालिम्पिक खेलों में पदक जीतकर प्रदेश का नाम रोशन करने वाले खिलाड़ियों को हार्दिक बधाई देते हुए उनके लिए ईनामी राशि की घोषणा की है। गहलोत ने स्वर्ण पदक विजेता शूटर अवनी लेखरा को 3 करोड़ रूपए, रजत पदक विजेता जेवलिन थ्रोअर देवेन्द्र झांझडिया(Devendra Jhanjhadia) को दो करोड़ रूपए तथा कांस्य पदक विजेता जेवलिन थ्रोअर सुन्दर गुर्जर(Sundar Gujjar) को एक करोड़ रूपए ईनामी राशि के रूप में देने की घोषणा की है। CMने कहा कि इन खिलाड़ियों ने जीवटता की मिसाल कायम करते हुए देश-प्रदेश का नाम रोशन किया है। प्रदेश की अन्य खेल प्रतिभाओं को भी उनकी इस उपलब्धि से राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की प्रेरणा मिलेगी।
उल्लेखनीय है कि प्रदेश में खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ओलंपिक खेलों में स्वर्ण, रजत तथा कांस्य पदक जीतने पर दी जाने वाली ईनामी राशि 75 लाख, 50 लाख तथा 30 लाख रूपए को वर्ष 2020-21 के बजट में बढ़ाकर क्रमशः 3 करोड़ रूपए, 2 करोड़ रूपए तथा 1 करोड़ रूपए करने की घोषणा की थी। इसी तरह एशियाई एवं राष्ट्रमण्डल खेलों में स्वर्ण, रजत तथा कांस्य पदक जीतने पर दी जाने वाली 30 लाख, 20 लाख एवं 10 लाख रूपए की ईनामी राशि को बढ़ाकर क्रमशः 1 करोड़ रूपए, 60 लाख रूपए एवं 30 लाख रूपए करने की भी उन्होंने बजट में घोषणा की थी। 

आउट आफ टर्न पॉलिसी के मिलेगी नौकरी
खेलों को बढ़ावा देने के लिए राज्य में पदक विजेता खिलाड़ियों को आउट ऑफ टर्न पॉलिसी के आधार पर राजकीय सेवाओं में नियुक्तियां दी जा रही हैं। टोक्यो पैरालिम्पिक(Tokyo Paralympic) खेलों में मेडल जीतने वाले तीनों खिलाड़ी अव​नि लेखरा, देवेन्द्र झांझड़िया तथा सुन्दर गुर्जर को राज्य सरकार ने आउट ऑफ टर्न आधार पर वन विभाग में सहायक वन संरक्षक के रूप में नियुक्ति प्रदान की है। प्रदेश की इन तीनों खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिए पैरालिम्पिक खेलों के प्रशिक्षण के रूप में 5-5 लाख रूपए स्वीकृत किए गए हैं। अवनि लेखरा और सुन्दर गुर्जर को राज्य क्रीड़ा परिषद द्वारा निःशुल्क प्रशिक्षण तथा अन्य सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। अवनि जयपुर की आधुनिकतम सुविधाओं से युक्त जगतपुरा शूटिंग रेंज में तथा सुन्दर सवाई मानसिंह स्टेडियम की एथलेटिक्स अकादमी में नियमित प्रशिक्षण ले रहे हैं। कोच चन्द्रशेखर के मार्गदर्शन में अवनि को तथा कोच महावीर सैनी के मार्गदर्शन में एथलीट सुन्दर गुर्जर को गहन खेल प्रशिक्षण दिया गया है।

Must Read: सिरोही पुलिस ने लग्जरी कार से जब्त किया 350 किलो डोडा पोस्त, 100 किलोमीटर तक किया पीछा, बावजूद भाग निकले तस्कर

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :