भारत: राजस्थान में भारी बारिश का कहर, 3 जिलों में स्कूल बंद

मौसम विज्ञान के अधिकारियों ने मंगलवार सुबह पुष्टि की कि झालावाड़ जिले में पिछले 24 घंटों में अत्यधिक भारी वर्षा दर्ज की गई, जो कि दाग तहसील में 284 मिमी थी।

राजस्थान में भारी बारिश का कहर, 3 जिलों में स्कूल बंद
weather update rajasthan

जयपुर | राजस्थान के कई हिस्सों में भारी बारिश ने कहर बरपाया है। इसकी वजह से कोटा, झालावाड़ और टोंक जिलों के स्कूलों को छुट्टियां घोषित करने के लिए मजबूर होना पड़ा है।

मौसम विज्ञान के अधिकारियों ने मंगलवार सुबह पुष्टि की कि झालावाड़ जिले में पिछले 24 घंटों में अत्यधिक भारी वर्षा दर्ज की गई, जो कि दाग तहसील में 284 मिमी थी।

पिछले 24 घंटों में कोटा में 126 मिमी की बहुत भारी बारिश दर्ज की गई। चित्तौड़गढ़ और भीलवाड़ा में 184 मिमी और 160 मिमी की बहुत भारी वर्षा दर्ज की गई।

प्रतापगढ़ जिले में भी पिछले 24 घंटों में 258 मिमी बारिश दर्ज की गई, जो मौसम विभाग के अनुसार बेहद भारी थी।

सरकारी और निजी दोनों स्कूलों ने कोटा में अवकाश घोषित कर दिया है और मंगलवार को दूसरे दिन भी बंद रहे। भारी बारिश को देखते हुए सोमवार को ही झालावाड़ में दो दिन का अवकाश घोषित किया गया था।

टोंक जिले में भी मंगलवार को स्कूलों में छुट्टी की घोषणा की गई। कोटा संभाग के बारां जिले में मंगलवार और बुधवार को सभी स्कूलों को दो दिन के लिए बंद रखने के आदेश जारी किए गए हैं।

कोटा संभाग में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात हो गए और बूंदी, बारां और झालावाड़ जिलों में भी लगातार बारिश चिंता का विषय बन गई है। पीड़ितों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए बचाव दल काम कर रहे थे।

कोटा में सोमवार को बचाव दल ने सैकड़ों लोगों को खतरे वाले इलाकों से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया। पानी से घिरे लोगों तक खाने के पैकेट भी पहुंचाए जा रहे थे, हाड़ौती संभाग में बारिश को लेकर हाहाकार मच गया है।

वहीं टोंक जिले में भी बारिश ने कहर बरपाया है, बीसलपुर बांध में पानी की आवक तेज हो गई है और बीसलपुर बांध का जलस्तर 313.57 आरएल मीटर तक पहुंच गया है।

बांध की कुल भरने की क्षमता 315.50 आरएल मीटर है। इस बांध से अजमेर और टोंक और राजधानी जयपुर को भी पीने के पानी की आपूर्ति की जाती है।

Must Read: कटरा में हादसा, जम्मू जा रही बस में आग, 4 की मौत, कई झुलसे, माता वैष्णो देवी के दर्शन कर लौट रहे थे

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :