Discoms की वीसी में सख्ती के निर्देश: Rajasthan में बिजली के डिसऑनेस्ट उपभोक्ताओं पर सख्ती करने के निर्देश, फिर चाहे सरकारी कार्यालय ही क्यों ना हो, होगी वसूली

डिसऑनेस्ट उपभोक्ताओं के प्रति किसी भी प्रकार की रियायत नहीं बरती जाए।  उपभोक्ता अथवा गैर उपभोक्ता जो बिजली चोरी या विद्युत तंत्र को नुकसान पहुंचाने में लिप्त पाया जाए, उनके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई किया जाना सुनिश्चित किया जाए। 

Rajasthan में बिजली के डिसऑनेस्ट उपभोक्ताओं पर सख्ती करने के निर्देश, फिर चाहे सरकारी कार्यालय ही क्यों ना हो, होगी वसूली

जयपुर।
प्रदेश में अब बिजली चोरी, बिजली बिलों के बकाया या अन्य बिजली संबंधित मामलों में डिसऑनेस्ट उपभोक्ताओं के प्रति सख्ती बरती जाएगी। ऐसे में फिर चाहे आम उपभोक्ता हो या फिर सरकारी कार्यालय सब से वसूली की जाएगी। राज्य विद्युत प्रसारण निगम के अध्यक्ष भास्कर ए. सावंत ने समीक्षा बैठक में कहा कि डिसऑनेस्ट उपभोक्ताओं के प्रति किसी भी प्रकार की रियायत नहीं बरती जाए।  उपभोक्ता अथवा गैर उपभोक्ता जो बिजली चोरी या विद्युत तंत्र को नुकसान पहुंचाने में लिप्त पाया जाए, उनके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई किया जाना सुनिश्चित किया जाए। 
डिस्कॉम्स अध्यक्ष भास्कर ए. सावंत ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से तीनों विद्युत वितरण निगमों के कार्यों एवं योजनाओं की दिसम्बर माह तक हुई प्रगति की सर्किलवार समीक्षा की। डिस्कॉमवार विभिन्न सर्किलों के टीएण्डडी व एटीएण्डसी लॉस की समीक्षा करते हुए सभी सर्किल इंचार्ज को निर्देश दिए कि वे इसका सब-डिविजन के अनुसार विश्लेषण करते हुए यह देखे की किस सब-डिविजन में गत वर्ष की तुलना में इस वित्तीय वर्ष में लॉस बढे़ हैं, ऎसे सब-डिविजनों में लॉस कम करने के प्रभावी प्रयास किए जाएं। 
उन्होंने निर्देश दिए कि कृषि कनेक्शन के सभी डिफेक्टिव मीटर्स को बदलने का कार्य आगामी दो माह में पूर्ण कर लिया जाए। 
इसके साथ ही राजस्थान विद्युत विनियामक आयोग द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार योजना बनाकर फ्लैट रेट कनज्यूमर्स को मीटर्ड श्रेणी में बदलने का कार्य भी प्राथमिकता से किया जाए। 
नए कनेक्शन के उपभोक्ताओं को प्रथम बिजली बिल जारी करने के कार्य को गम्भीरता से लें और समय पर बिल जारी किया जाना सुनिश्चित किया जाए। 
राजकीय विभागों के बिजली बिलों की बकाया राशि को वसूलने के लिए सभी सर्किल इंचार्ज बकाया राशि वाले विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक कर गैर-विवादित बिजली बिलों की बकाया राशि को वसूल करने का प्रभावी प्रयास करें। 
सावंत की वीसी में लंबित वीसीआर का अन्तिम निस्तारण, कुसुम कम्पोनेन्ट-सी योजना के तहत पम्प सोलराइजेशन व फीडर लेवल सौलराइजेशन और स्मार्ट मीटर लगाने के कार्य की प्रगति की समीक्षा भी की गई।
डिस्कॅाम्स वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग में जयपुर डिस्कॉम के प्रबंध निदेशक  नवीन अरोड़ा, अजमेर डिस्कॉम के प्रबंध निदेशक वी.एस.भाटी, जोधपुर डिस्कॉम के प्रबंध निदेशक श्री अविनाश सिंघवी सहित तीनों डिस्कॉम के निदेशक तकनीकी व वित, संभागीय मुख्य अभियन्ता, अधीक्षण अभियन्ता उपस्थित रहे।

Must Read: तंत्र—मंत्र का झांसा देकर जीजा—साले ने रुपए के लालच में पत्थर से वारकर की थी रिटायर्ड शिक्षक की हत्या, रेवदर सीओ के नेतृत्व में 24 घंटे में ही वारदात का खुलासा

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :