Prime minister Modi का राष्ट्र को : Prime minister ने भारत में 3 जनवरी से 15 से 18 साल तक वालों को वैक्सीन और 10 जनवरी से फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोरोना की बूस्टर डोज लगाने का किया ऐलान

पीएम मोदी ने कहा कि 3 जनवरी 2021 से देश के 15 से 18 साल तक की उम्र वाले करीब 8 करोड़ बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके साथ ही देश में 10 जनवरी 2021 से हेल्थ वर्कर्स सहित करीबन 3 करोड़ फ्रंट लाइन वर्कर्स को बूस्टर डोज लगाई जाएगी। 

Prime minister ने भारत में 3 जनवरी से 15 से 18 साल तक वालों को वैक्सीन और 10 जनवरी से फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोरोना की बूस्टर डोज लगाने का किया ऐलान

नई दिल्ली, एजेंसी। 
देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार रात एक बार फिर देश के नाम संबो​धन दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने 14 मिनट 21 सेेकेंड के इस संबोधन में देश को नए साल का तोहफा दिया। 
पीएम मोदी ने कहा कि 3 जनवरी 2021 से देश के 15 से 18 साल तक की उम्र वाले करीब 8 करोड़ बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी। 
इसके साथ ही देश में 10 जनवरी 2021 से हेल्थ वर्कर्स सहित करीबन 3 करोड़ फ्रंट लाइन वर्कर्स को बूस्टर डोज लगाई जाएगी। 
इतना ही नहीं, पीएम मोदी ने 60 वर्ष से अधिक उम्र वालें गंभीर बीमारी से पीड़ित नागरिकों को उनके चिकित्सक की सलाह पर वैक्सीन का बूस्टर डोज लगान का विकल्प दिया।

https://twitter.com/narendramodi/status/1474775804336697345?s=20 


 इसकी शुरूआत भी 10 जनवरी से कर ​दी जाएगी। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री ने शनिवार देर शाम 9 बजकर 46 मिनट पर अपना संबोधन शुरू किया और 10 बजे समाप्त किया।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश में जल्द ही नेजल वैक्सीन और दुनिया की पहली डीएनए वैक्सीन भी शुरू कर दी जाएगी। 
पीएम ने की कोरोना से बचाव की अपील
देश के नाम संबोधन में प्रधानमंत्री ने बूस्टर डोज के साथ ही देशवासियों से कोरोना महामारी में एक बार वापस सावधानी बरतने की अपील की। 
मोदी ने कहा ​कि महामारी को हराने के लिए पहले की तरह मास्क पहने और पहले की तरह ही सोशल डिस्टेंस अपनाए।
इसके साथ ही मोदी ने क्रिसमस की शुभकामना दी और नए साल का स्वागत करने में महामारी की अनदेखी नहीं करने की चेतावनी भी दी। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि नए साल आने वाला है, देश को इस उत्साह और उमंग के साथ सावधान रखने की भी आवश्यकता है। 
देश में ओमिक्रॉन वैरिएंट बढ़ रहा है। लेकिन पैनिक होने की बजाए सावधानी बरतने की जरूरत अधिक है। 
देश में 18 लाख आइसोलेशन बेड, 5 लाख आक्सीजन
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश कोरोना की लहर से निपटने के लिए तैयार है। 
देश में इस समय 18 लाख आइसोलेशन बेड के साथ 5 लाख आक्सीजन सपोर्टेड बेड तैयार हैं।
 इनके साथ ही हमारे चिकित्सा क्षेत्र में 1लाख 40 हजार आईसीयू बेड, 90 हजार बेड बच्चों के लिए और 3000 आक्सीजन प्लांट भी काम कर रहे हैं। 
केंद्र की ओर से राज्यों को दवाइयों के बफर स्टॉक तैयार करने में हर संभव मदद की जा रही है। 
इस कोरोना महामारी वैक्सीनेशन से बचाव हो रहा है। इस लिए देश में वैक्सीनेशन के क्षेत्र में व्यापक पैमाने पर काम किया गया। 
आज देश में 141 करोड़ वैक्सीन की डोज लगाई गई। इसमें 61 प्रतिशत व्यस्क को तो दोनों डोज लगाई जा चुकी है, जबकि 90 प्रतिशत व्यस्कों को पहली डोज लग गई। 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के वैज्ञानिकों को धन्यवाद देते हुए कहा कि भारत में जल्द ही नेजल वैक्सीन आने वाली है। 
दुनिया में पहली डीएनए वैक्सीन भी भारत में शुरू होगी।  मोदी ने अंत में कहा कि हमें भूलना नहीं चाहिए कि कोरोना अभी गया नहीं है। 

Must Read: राजस्थान पुलिस का कमांडो लकवे से ग्रस्त होने के बावजूद वर्दी का निभा रहे हैं फर्ज, हर रोज 8 से 8 बजे तक की ड्यूटी में रहते है तैनात

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :