राजस्थान विधानसभा सत्र: भाजपा विधायक देवनानी के आचरण पर Rajendra Rathore ने मांगी माफी

भाजपा विधायक वासुदेव देवनानी को एक दिन के लिए सदन से निलंबित करने के मामले में भाजपा विधायकों का बहिष्कार बुधवार को समाप्त हो गया। उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड ने स्पीकर से माफी मांगी। इसके बाद गतिरोध समाप्त हो गया और सदन की कार्यवाही शुरू की गई

भाजपा विधायक देवनानी के आचरण पर Rajendra Rathore ने मांगी माफी

जयपुर। भाजपा विधायक वासुदेव देवनानी को सोमवार को सदन से एक दिन निलंबित करने के बाद पैदा हुआ गतिरोध बुधवार को समाप्त हो गया है। भाजपा विधायकों ने बुधवार को सदन का बहिष्कार खत्म कर कार्यवाही में हिस्सा लेना शुरु कर दिया है। भाजपा विधायक दल की बैठक में रणनीति तय कर सदन की कार्यवाही में हिस्सा लेने का फैसला किया। इसके बाद नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने स्पीकर सीपी जोशी से मुलाकात कर गतिरोध खत्म करने पर चर्चा की।

सुबह 11 बजे सदन की कार्यवाही शुरु होने के बाद उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने वासुदेव देवनानी के व्यवहार पर स्पीकर सीपी जोशी से माफी मांगी। सदन की कार्यवाही शुरु होते ही राजेंद्र राठौड़ ने कहा, देवनानी उत्तेजना के कारण वेल में आए वह उचित नहीं था। आप ही हमारे संरक्षण करने वाले हैं। इस तरह की पुनरावृति नहीं हो इसका प्रयास होगा। राठौड़ ने स्पीकर से कहा,गुस्सा छोड़ो, कहा तो मानो, थोड़ी नजरें इधर भी इनायत करो। अध्यक्ष ही हमारा संरक्षण नहीं करेंगे तो हम कहां जाएंगे। संसदीय कार्य मंत्री भी अपना आचरण ठीक करेंं, सदन चलाने की जिम्मेदारी उनकी होती है लेकिन वे ही उकासाने का काम करते हैं। इस पर स्पीकर सीपी जोशी ने कहा कि देवनानी का व्यवहार गलत था। अध्यक्ष के खड़े होने के बावजूद विधायक बोल रहे हैं, इससे गलत पंरपरा शुरू हो जाएगी; आप जैसे पार्लियामेंटेरियन को उसी वक्त खड़े होकर अपने विधायक का विरोध करना चाहिए था। इस पर राठौड़ ने कहा, आसन आहत हुआ है तो हम क्षमा याचना करते हैं। हम सदन चलाना चाहते हैं। इसके बाद गतिरोध खत्म हो गया। गौरतलब है कि सोमवार को भाजवा विधायक वासुदेव देवनानी एबीवीपी छात्रों पर हुए हमले के मामले में स्थगन प्रस्ताव पर बोलने की अनुमित नहीं मिलने पर स्पीकर सीपी जोशी से उलझ गए थे। स्पीकर से उलझने के बाद देवनानी को सोमवार को पूरे दिन सदन से निलंबित कर दिया। इससे नाराज भाजपा विधायकों ने सदन की कार्यवाही का बहिष्कार कर दिया था। बुधवार को वह बहिष्कार खत्म कर दिया।

Must Read: Rajasthan में कांग्रेस सरकार, माउंट आबू में कांग्रेस का बोर्ड बावजूद इसके Congress councilor ने नगर पालिका अधिकारियों से परेशान होकर सीएम को भेजा इस्तीफा

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :